इस बीएसएफ जवान ने बनाया नया रिकॉर्ड, छठी बार एवरेस्ट फतह करने वाले पहले भारतीय

0

मुनस्यारी (पिथौरागढ़)। दुनिया की सबसे उंची चोटी एवरेस्ट को छठी बार फतह करके बीएसएफ के सहायक सेनानी लवराज धर्मशक्तू भारत के पहले पर्वतारोही बन गये। लवराज मुनस्यारी के बौना गांव के रहने वाले हैं।

एवरेस्ट

एवरेस्ट अभियान दल में पद्मश्री लवराज ने हिस्सा लिया था

तेल एवं प्राकृतिक गैस आयोग (ओएनजीसी) द्वारा प्रायोजित एवरेस्ट अभियान दल में पद्मश्री लवराज ने हिस्सा लिया था। धारचूला निवासी ओएनजीसी में इंजीनियर योगेश गब्र्याल समेत उत्तराखंड के चार पर्वतारोही उनके नेतृत्व में इस दल में गए थे।

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्यमंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इस दल को गत 28 मार्च को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। लवराज ने फोन पर बताया कि इस दल ने शनिवार सुबह एवरेस्ट के शिखर पर चढ़ने में सफलता प्राप्त की।

इससे पहले 1998 में पहली बार लवराज धर्मशक्तू ने इसको फतह किया था। इसके बाद वे बीएसएफ में चले गए। वहां जाने के बाद वर्ष 2006, 2009, 2012, 2013 और अब 27 मई 2017 को छठी बार फतह करने में सफलता हासिल की है।

 

loading...
शेयर करें