कुठआ गैंगरेप मामला : मुख्य आरोपी सांजी राम ने स्वीकारा गुनाह, किए कई हैरान कर देने वाले खुलासे

0

नई दिल्ली। जम्मू और कश्मीर में 8 साल की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप और हत्या मामले में मुख्य आरोपी सांजी राम ने आखिरकार अपना गुनाह कबूल लिया है। साथ ही उसके कुछ हैरान कर देने वाले खुलासे भी किए हैं। सांजी राम ने बताया कि उसने ये सब उसके अपने बेेटे को बचाने और बकरवाल समुदाय में डर पैदा करने के लिए किया था।

आरोपी सांजी राम

बच्ची का रेप 10 जनवरी को हुआ था और सांजी राम के मुताबिक उसके अपहरण होने के चार दिन बाद इस बात का पता चला। जब उसे पता चला कि इस मामले में उसका बेटा भी शामिल है तो उसने अपने बेटे को बचाने और बकरवाल समुदाय में डर पैदा करने के लिए पीड़ित बच्ची की हत्या करना ही सही समझा। जिससे कोई सबूत बाकी न रहे। इस घटना में सांजी राम का नाबालिग भतीजा भी शामिल था। बच्ची के साथ पहली बार रेप 10 जनवरी को किया गया, आरोपी ने खुलासा किया है कि बच्ची को शांत रखने के लिए वो उसे भांग पिलाता था।

क्राइम ब्रांच के सूत्र ने बताया कि भतीजे ने सांजी राम को बताया कि उसके बेटे विशाल ने भी पीड़िता से रेप किया है। इस खुलासे के बाद पीड़िता की हत्या करने से सांजी राम को अपने दो मकसद पूरे होते नजर आए। एक तो वह घुमंतू बकरवाल समुदाय को गांव से बाहर खदेड़ना चाहता था और उसे अपने बेटे को भी जेल जाने से बचाना था। सबूत मिटाने की गरज से उसने बच्ची की हत्या कर दी।

हत्या के बाद बच्ची का शव ठिकाने लगाने के लिए सांजी राम ने अपने दोस्त की कार मंगवाई लेकिन कार का इंतजाम न होने पर तीनों ने मिलकर बच्ची के शव को मंदिर से दूर फेंक किया। बच्ची का शव मिलने के बाद जब मामला पुलिस तक पहुंचा तो सांजी राम ने सबूत मिटाने के लिए दो पुलिसकर्मियों को चार लाख रुपये की रिश्वत भी दी। क्राइम ब्रांच ने उन दोनों पुलिसवालों को गिरफ्तार कर लिया है।

 

 

 

loading...
शेयर करें