प्रेग्नेंट महिलाएं भी होली का लें मजा, मगर सावधानी के साथ

0
  • केमिकल युक्त रंगों का न करें इस्तेमाल, घर पर तैयार करें नेचुरल कलर
  • खान पीन का रखें ध्यान, चिकनाई युक्त भोजन का ना करें इस्तेमाल

आगरा। होली के रंग उत्साह देते हैं, जिंदगी को नई उमंग देते हैं। तो भला इस खुशी और उमंग से गर्भवती महिलाएं क्यों पीछे रहें। रेनबो हॉस्पिटल की स्त्री व प्रसूति रोग विशेषज्ञ डॉ. निहारिका मल्होत्रा कहती हैं कि गर्भवती महिलाएं भी होली में खुशी के रंग भरें, लेकिन सावधानी बरतें।

गर्भवती महिलाएं

होली में चेहरे पर रंग लगाया जाता है, यह रंग केमिकल से बने होते हैं, इनसे बचें। केमिकल कलर में सिंथेटिक और इंडस्ट्रियल डाई से बने होते हैं और ऑक्सीडाइड मेटल व ग्लास के बारीक पीस होते हैं। ये रंग गर्भवती महिला और गर्भस्थ शिशु के लिए हानिकार होते हैं। वहीं, ऑर्गेनिक कलर के नाम पर ब्लैक हेना बेचा जा रहा है, इसमें पैरापिफनायलएंडियामाइन होता है, यह एलर्जिक रिएक्शन करता है। गर्भधारण के समय इम्युनिटी कम हो जाती है, ऐसे में एलर्जिक रिएक्शन होने पर समस्या बढ सकती है। इसलिए विशेष सावधानी रखनी चाहिए।

 ड्रिंक और चिकनाई युक्त भोजन से बचें

होली में मिठाई, एल्कोहल व भांग का इस्तेमाल भी होता है। गर्भवती महिलाओं के लिए यह घातक हो सकता है। होली पर गर्भवती महिलाएं चिकनाई युक्त भोजन और बाजार ​की मिठाई (मिलावटी) का सेवन करने से बचें। इसे पाचन क्रिया गडबड हो सकती है। मगर, अधिक से अधिक लिक्विड डाइट लेनी चाहिए, जिससे पानी की कमी न हो।

 होली में घर से बाहर निकलते समय रखें ध्यान

होली के दौरान घर से बाहर जाते हैं तो ध्यान रखें, घरों की छतों से लोग रंग फेंकते हैं, वहीं सड़कों पर पानी फैला रहता है, इससे स्लिप हो सकती हैं। इसलिए गर्भवती महिलाएं घर से बाहर न निकलें तो अच्छा है। घर से बाहर जाती हैं तो सावधनी रखें। घर में भी होली खेलते समय सावधानी बरतें।

होली के धुआं से बचें

होलिका दहन के समय दूर रहें, इस दौरान उठने वाला धुआं भी घातक हो सकता है, इससे सांस उखड़ सकती है। होलिका दहन से कुछ दूरी पर खडे होकर नजारा देखें।

यह करें

  • चेहरे पर तेल लगा लें। इससे रंग सीधे त्वचा के सम्पर्क में आकर नुकसान नहीं पहुंचाता और त्वचा से जल्दी हट जाता है।
  • रंग लगते ही उसे धो लें, सूखने के बाद रंग को साफ करने में समस्या आती है।
  • घर पर ऑर्गेनिक कलर तैयार करें, गुलाल से होली खेलें।
  • चिकनाई युक्त भोजना, एल्कोहल और चाय कॉफी सीमित मात्रा में लें।

loading...
शेयर करें

आपकी राय