छात्रों और जवानों में हुई हिंसक झड़प, गोली लगने से छात्र घायल

0

श्रीनगर| जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में आठ साल की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप और हत्या के मामले ने पूरे देश को झगझोर के रख दिया है। इस मामले को लेकर पूरे देश में प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं। ऐसा ही प्रदर्शन जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में देखने को मिला। जिसने बाद में हिंसक रूप ले लिया। इस हिंसक प्रदर्शन के दौरान गोली लगने से एक छात्र घायल हो गया है। छात्र को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार, कठुआ गैंगरेप मामले को लेकर अनंतनाग जिले में सोमवार को छात्र-छात्राओं ने जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों द्वारा सोमवार को सेना के जवानों पर पत्थरबाजी भी की गई जिसके बाद झड़प शुरू हो गई।

उग्र हो रहे छात्र-छात्राओं को छितर-बितर करने के लिए जवानों को फायरिंग भी करनी पड़ी। इसी दौरान गोली लगने से एक छात्र घायल हो गया। युवक की पहचान वामिक एजाज के रूप में हुई है। उसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया। वहां उसका इलाज कर रहे चिकित्सकों ने कहा, “वह गोली लगने से घायल हुआ है।

झड़प शुरू होने के बाद अनंतनाग में बाजार तुरंत बंद हो गए। सार्वजनिक परिवहन भी अवरुद्ध हो गया। पुलवामा और शोपियां जिलों में भी सेना के जवानों और पत्थरबाजों के बीच संघर्ष शुरू हो गया।

पुलिस के सूत्रों ने कहा कि प्रदर्शनकारी युवाओं ने शोपियां के पिंजोरा गांव में सैन्य वाहन के अंदर बैठे जवानों पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए, जिसके चलते भीड़ को तितर-बितर करने के लिए जवानों को हवा में गोलीबारी करनी पड़ी।

पुलवामा के मुर्रन गांव में भी प्रदर्शनकारियों ने सेना के एक दल पर पत्थर फेंका, जिसके बाद सुरक्षा बलों और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प शुरू हो गई।

loading...
शेयर करें