बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने सपा पर कसा तंज, कहा- भाजपा लाश पर राजनीति नहीं करती…

0

वाराणसी:  वाराणसी कैंट रेलवे स्टेशन के पास फ्लाईओवर का एक हिस्सा टूटकर गिर जाने से करीब 18 लोगों की मौत हो गई. मौके पर उपस्थित लोगों ने बताया की अभी तक बस 18 लोगों के शव बरामद हुए लेकिन मलबे के नीचे और भी लोगों के दबे रहने की आशंका जताई जा रही है. खबरों के मुताबिक केंद्रीय परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी चौबे और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय बुधवार को बीएचयू ट्रॉमा सेंटर, कबीरचौरा और दुर्घटनास्थल पहुँच कर वहां की जानकारी ली.

वाराणसी

इस दौरान भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष कहा कि फ्लाईओवर का टेंडर अखिलेश के जमाने में पूरा हुआ था. सपा,कांग्रेस के आरोपों के दौरान प्रदेश अध्यक्ष ने पत्रकारों से कहा कि भाजपा लाश पर राजनीति नहीं करती है.

उन्होंने ये भी कहा कि अखिलेश सरकार में एक ट्रैफिक डायवर्जन नहीं करने के चलते राजघाट पुल पर 29 जान जा चुकी है. तब उस दिन कोई मंत्री नहीं आया था. स्वयं मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री का कुछ ही घंटों बाद दुर्घटनास्थल पर आना सरकार की संवेदनशीलता और दुःख को दर्शाता है.

जिला प्रशासन की ओर से कराया गया राहत और बचाव कार्य संतोषजनक है. जब उनसे मीडिया ने भ्रष्टाचार से जुड़े सवाल किये टी उन्होंने कहा कि पहले जांच रिपोर्ट आने दीजिए उसके सब पता चल जाएगा. प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ ने कहा कि 24 मई को कैथी में प्रस्तावित मारकंडे महोत्सव स्थगित कर दिया गया है. जिसमें हेमामालिनी को आना था.

अस्पतालों में आठ घायल उपचाराधीन

अस्पताल में फ्लाईओवर हादसे के आठ लोगों का इलाज चल रहा है. इसमें मंडलीय अस्पताल में तीन और बीएचयू ट्रामा सेंटर में पांच मरीज भर्ती हैं. बीएचयू की प्रेस रिलीज के मुताबिक कुल 12 लोगों को मंगलवार को लाया गया था. जिसमे से तीन की मौके पर मौत हो गई, जबकि तीन डिस्चार्ज हो गए.

वाराणसी

एक घायल मंडलीय अस्पताल चला गया. बीएचयू में राजेश भास्कर (40), महेंद्र प्रताप (45), मो. ईस्माइल (35) और नीरज (21), बृजेश शर्मा (34) का इलाज चल रहा है और मंडलीय अस्पताल के प्रमुख डॉ. बीएन श्रीवास्तव ने बताया कि अस्पताल में प्रदुम्न लाल (30), नसरूद्दीन (22) और मो. शकील (35) उपचार चल रहा है.

loading...
शेयर करें