ब्लाक प्रमुख के नामांकन में फायरिंग, पथराव और दर्जनों घायल

0

लखनऊ। यूपी में ब्लाक प्रमुख के नामांकन के दौरान फायरिंग के साथ कई जगह बवाल हुआ। पथराव और फायरिंग में दर्जनों लोगों के घायल होने की खबर है। कई जगह नामांकन पत्र फाड़ डाले गए। ब्लाक प्रमुख का चुनाव सात फरवरी को है जिसके लिए शुक्रवार को ब्लाक प्रमुख के नामांकन की तारीख थी। नामांकन में कई दिग्गजों के परिवार भी शामिल थे।

यूपी में सात फरवरी को 816 ब्लाक प्रमुख के चुनाव होंगे। इसके लिए पांच फरवरी को नामांकन और छह फरवरी को नाम वापसी की तारीख चुनाव आयोग ने तय की है। सात फरवरी को 11 बजे से दिन में तीन बजे तक मतदान होगा। इसके बाद शाम पांच बजे तक सभी जगह पर परिणाम घोषित होंगे।

ब्लाक प्रमुख के नामांकन

ब्लाक प्रमुख के नामांकन में भिड़े गुट और फायरिंग

ब्लाक प्रमुख प्रत्याशी के नामांकन के दौरान सुलतानपुर के धनपतगंज ब्लाक में दो गुटों में फायरिंग होने लगी। इस दौरान भगदड़ से आधा दर्जन लोग चोटिल भी हैं। फायरिंग जिला पंचायत अध्यक्ष के प्रतिनिधि शिवकुमार सिंह तथा दबंग छवि वाले यशभद्र उर्फ मोनू सिंह के गुटों के बीच हुई है। फायरिंग में कोई हताहत नहीं हैं। फायरिंग के दौरान अधिकांश लोग नामांकन प्रक्रिया छोड़कर भाग गये। कानपुर देहात के झींझक ब्लॉक में समाजवादी पार्टी के विद्रोही बब्बन शर्मा व सपा प्रत्याशी राजेन्द्र सिंह यादव के समर्थकों में टकराव के बाद फायरिंग भी हुई। इस दौरान फायरिंग होने से भगदड़ के साथ लोगों में अफरा तफरी मची। वहां पर सभी दुकानों के शटर गिर गये। सारा बवाल बब्बन शर्मा के नामांकन कराने जाते समय हुआ। कानपुर के चौबपुर ब्लाक परिसर के बाहर में नामांकन के दौरान प्रत्याशी समर्थकों के बीच मारपीट हो गई। इसमें एक प्रत्याशी का वकील अहिवरन सिंह घायल है। इस बवाल के चलते तनाव है और मौके पर पुलिस तैनात की गई है। श्रावस्ती के हरीहरपुररानी ब्लॉक में प्रमुख पद पर नामांकन करवाने जा रहे सपा व बसपा कार्यकर्ताओं में भिड़ंत के बाद पथराव किया गया और फिर फायरिंग हुई। वाराणसी के कपसेठी थाना के महराजपुर गांव में चुनावी रंजिश को लेकर दो पक्ष आमने-सामने आ गये। इस दौरान दोनों तरफ से ईंट-पत्थर लाठी, राड चलने से दस लोग घायल हो गये हैं। मऊ के फतहपुरमंडाव से सपा प्रत्याशी का समर्थन करने के आरोप मे चौकी प्रभारी दुबारी संतोष यादव को लाइन हाजिर कर दिया गया है।

फिरोजाबाद में बीडीसी सदस्य के अपहरण का मुकदमा दर्ज

फिरोजाबाद में बीडीसी सदस्य के अपहरण के केस में सिरसागंज थाना में मुकदमा दर्ज कराया गया है। इस बार भाजपा नेता पूर्व मंत्री जयवीर सिंह तथा उनके दोनों पुत्र अतुल व सुमित सहित नौ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। एक बीडीसी मेंबर के पुत्र ने यह एफआईआर लिखवाई है। इससे पहले भी इन्ही लोगों पर अपहरण का मामला दर्ज हुआ था जो तफ्तीश के बाद में झूठा पाया गया था। दरअसल अराव ब्लॉक से पूर्व मंत्री की बहु अमृता सिंह ने पर्चा दाखिल किया है जबकि यहां पर समाजवादी पार्टी की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है।

मंत्री की पत्नी के खिलाफ पूर्व मंत्री के भतीजा

सीतापुर के मछरेहटा ब्लॉक में प्रदेश राज्यमंत्री रामपाल राजवंशी की पत्नी के खिलाफ पूर्व मंत्री रामकृष्ण के भतीजे आशीष भार्गव ने मोर्चा खोल दिया है। गोंदलामऊ में संदीप कुमार और उनके पिता अवधेश कुमार ने महमूदाबाद में मुकेश वर्मा और उनकी पत्नी राजेश कुमारी ने पर्चा दाखिल किया है। उधर सिधौली से अमर सिंह व सुशीला यादव, लहरपुर से आलोक वर्मा, बेहटा से ममता वर्मा, परसेंडी से मालती सिंह व वंदना सिंह, हरगांव से सुशीला यादव, बिसवां से राकेश वर्मा, महोली से निर्मला देवी व पहला से माँ बेटे सावित्री वर्मा व प्रवीण वर्मा एवं पिता पुत्र राम लाल यादव व अरुणेश यादव ने नामांकन किया है। सीतापुर में दोपहर एक बजे तक कई ब्लॉकों में एक भी नामांकन नहीं हो सका। कई ब्लॉकों में एक व कई जगहों पर दो-दो लोगों ने पर्चा दाखिल किया।

 

 

 

loading...
शेयर करें