भागलपुर दंगे मामले में केंद्रीय मंत्री के बेटे अर्जित को झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत अर्जी

0

भागलपुर। भागलपुर दंगा मामले में केंद्रीय स्वस्थ्य मंत्री आश्विन चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत चौबे को एक और झटका लगा है। भागलपुर की कोर्ट ने अर्जित की जमानत याचिका को ख़ारिज कर दिया है। अब वह जमानत के लिए ऊपरी अदालत का रुख कर सकते हैं। अर्जित फिलहाल भागलपुर जेल में बंद हैं। कोर्ट ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजा है।

ashwin chabe

भागलपुर के नाथनगर में 17 मार्च को हिंदू नववर्ष के मौके पर निकाले गए जुलूस के दौरान सांप्रदायिक हिंसा भड़क गई गई थी। पुलिस ने इस मामले में दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की थी और अर्जित शाश्वत को भी आरोपी बनाया था। हफ्तेभर आलोचनाएं झेलने के बाद नीतीश की पार्टी ने अर्जित से आत्मसमर्पण करने की अपील की थी। अर्जित को दो दिन पूर्व पटना से गिरफ्तार किया गया था।

इस मामले में मंगलवार को पांच और आरोपियों को गिरफ्तार किया गया, जबकि तीन अन्य ने अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया।

अर्जित पिछले विधानसभा चुनाव में भागलपुर क्षेत्र से चुनाव लड़कर हारे थे। ताजा भागलपुर कांड पर अश्विनी चौबे ने एफआईआर को गलत ठहराया था और कहा था किउन्हें अपने बेटे पर गर्व है। ‘भारत माता की जय’ कहना अपराध नहीं है। चौबे को भले ही यह अपराध न लगे, लेकिन जिस मकसद से और जहां कहा गया, वह अपराध जरूर है। अदालत ने इसे अपराध माना और हिंसा भड़काने के पर्याप्त सबूत देख जमानत नहीं दी।

loading...
शेयर करें