महाराष्ट्र में ऑडिटोरियम में ‘फंसे’ शरद पवार, घंटों मशक्त के बाद निकले बाहर

0

सतारा (महाराष्ट्र)| राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार बुधवार को एक ऑडिटोरियम के दरवाजे का ताला अचानक जाम हो जाने के कारण अंदर ही फंस गए। इसे लेकर उनके पार्टी कार्यकर्ताओं में बेचैनी पैदा हो गई। एनसीपी के राज्य प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि यह घटना पवार के एक खचाखच भरे मीडिया सम्मेलन को संबोधित करने के बाद सभा स्थल से जाने के दौरान हुई।

शरद पवार

उन्होंने कहा कि दरवाजा खुल नहीं रहा था। इसमें लगा हैंडल के कारण ताला जाम हो गया था और यह अंदर या बाहर किसी भी तरफ से खुल नहीं रहा था।

उन्होंने कहा कि एनसीपी के कई विधायकों, कार्यकर्ताओं, पत्रकारों व ऑडिटोरियम के कर्मचारियों ने इसे खोलने का प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हुए। बाद में ताले को तोड़ना पड़ा।

पवार (77) करीब दस मिनट बाद वह सभा स्थल से निकल सके। इससे पहले पवार ने दिग्गज शिक्षाशास्त्री दिवंगत कर्मवीर भाऊराव पाटिल की 59वीं पुण्यतिथि पर 99 साल पुराने रायत शिक्षण संस्था पर श्रद्धांजलि अर्पित की। पाटिल ने 1919 में इस संस्था की स्थापना की थी।

बता दें कि एनसीपी नेता पूर्व में भी सुर्खियों में आ चुके हैं। तब बीमार चल रहे यादव को डॉक्टरों ने करीब 15 दिन आराम करने की सलाह दी थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक तब उनके पैर में सूजन की बात सामने आई थी। जिसके बाद डॉक्टरों ने उनके इलाज के दौरान उनके आवागम पर रोक लगा दी थी। हालांकि पूर्व केंद्रीय मंत्री ने तब अपनी इच्छा जताते हुए बताया कि वह आने वाले कार्यक्रमों में शामिल होना चाहते हैं। जानकारी के लिए बता दें कि शरद यादव कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से भी बच चुके हैं। उन्हें तंबाकू खाने के कारण कैंसर हो गया था।

loading...
शेयर करें