यूपी में आंधी-तूफान के तांडव में मरने वालों का आंकड़ा 50 के पार, आगरा में 40 से ज्यादा मौतें

0

लखनऊ। तूफान ने बुधवार को उत्तर प्रदेश में भयानक तबाही मचाई है। पूरे राज्य में 50 से ज्यादा लोगों की मौत हुई ये आंकड़ा लागातार बढ़ता जा रहा है। तूफ़ान का सारा आगरा में ज्यादा देखने को मिल रहा है। यहां अकेले ही 40 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, तूफान में कई मवेशियों के भी मारे जाने की सूचना है। इतना ही नहीं तूफ़ान एन फसलों को काफी नुकसान पहुँचाया है।   

बुधवार को आये आंधी तूफ़ान में आगरा सिटी में 2, सैया में 4, खेरागढ़ में 13, फतेहाबाद में 2, बाह में 2 और कागरोल में एक की मौत की सूचना है। यहां भी काछे घरों के साथ बड़े-बड़े पेड़ उखड गए। बिजली पोल उखड गए। कई मकान, शेड तथा पेड़ धराशाही हो गए तथा वाहनों की आपस में टक्कर हो गई।

राज्य के राजस्व और राहत आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि आंधी-तूफान में 40 से 50 लोगों के मरने की आशंका है। उन्होंने कहा कि अभी पीड़ितों को मुआवजा 24 घंटे के भीतर मुहैया कराया जाएगा। सभी मृतकों के परिजनों को चार लाख मुआवजा देने का ऐलान किया गया है।

सीएम योगी ने तूफ़ान प्रभावित लोगों को आर्थिक सहायत पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। आपको बता दें कि 132 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से आए आंधी-तूफान में ग्रामीण इलाकों में जमकर तबाही मचाई। तूफान का सबसे ज्यादा असर खेरागढ़, फतेहाबाद, पिनाहट और अछनेरा में हुआ है। आंधी बारिश और ओलावृष्टि ने जमकर तबाही मचाई है।

मौसम विभाग के मुताबिक गुरुवार को भी आंधी के आसार बने रहेंगे। 48 घंटे में कई जिलों में आंधी-तूफान की चेतावनी दी गई है। कहा गया है कि तेज हवाओं, आंधी-तूफान और बारिश की प्रबल संभावना बनी हुई है। शासन ने अलर्ट जारी करते हुए प्रशासन को समस्या से निपटने के निर्देश दिए हैं।

मौसम विभाग के इस पूर्वानुमान के मुताबिक अगले 48 घंटों में यूपी के गोरखपुर, देवरिया, बलिया, महराजगंज और बहराइच के साथ पश्चिमी यूपी के बरेली, मुरादाबाद और मेरठ में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो सकती है।

loading...
शेयर करें