उत्तराखंड में दिख रहें हैं, विधानसभा चुनाव के आसार

0

विपक्षी दलों ने मुख्यमंत्री हरीश रावत पर निशाना साधा हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि रावत जनता के हित में काम ना करने की वजह से जनता से दूर हो गए हैं। इन्हीं सब समस्याओं के चलते उत्तराखंड में वह राज्यसभा चुनाव के बाद अब विधानसभा चुनाव कराने की घोषणा कर सकते हैं।

विधानसभा चुनाव

विधानसभा चुनाव के लिए प्रयास कर रहें हैं

अजय भट्ट ने आरोप लगते हुए कहा कि बांटी जा रही लालबत्तियों को कांग्रेस के ही विधायक लौटा रहें हैं। उनके विधायक लगातार रावत सरकार को कटघरे में खड़ा करने के लिए प्रयास में लगे हुए हैं। इससे साफ है कि मुख्यमंत्री ने मंत्री बनाने के लिए दस से अधिक विधायकों से वायदा किया होगा। अब जब सच्चाई सामने आ रही है तो पार्टी में तनाव पैदा हो रहा हैं। जिसके चलते रावत राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए प्रयास कर रहें हैं।

लंढौरा कांड को बताया सीएम रावत का षड्‍यंत्र

इसी तरह राज्यसभा चुनाव, पीडीएफ को लेकर भी कांग्रेस में मुख्यमंत्री की खिलाफत हो रही हैं। यहां तक कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी नाराज हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि लंढौरा की घटना ने पूरे देश में कांग्रेस सरकार की छवी को ख़राब कर दिया है। उसने मुख्यमंत्री को जनता से अलग कर दिया है। लंढौरा में कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के महल पर हमला, बवाल, आगजनी मुख्यमंत्री के इशारे पर हुआ था।

भाजपा के हरक सिंह रावत ने मुख्यमंत्री को कहा डेनिस रावत

कांग्रेस से बगावत कर भाजपा में शामिल हुए विधायक और पूर्व कैबिनेट मंत्री डा. हरक सिंह रावत ने मुख्यमंत्री हरीश रावत की जम कर खिलाफ़त की है। उन्होंने कहा कि हरीश रावत माफियाओं के नेतृत्व में सरकार चला रहे हैं। इतना ही नहीं उन्होंने सीएम को डेनिस रावत तक कह डाला।

loading...
शेयर करें