शिवराज सरकार ने लिया बड़ा फैसला, मनचलों के लिए मुसीबत बना यह फरमान

0

इंदौर। शिवराज सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एक बड़ा कदम उठाया है। सरकार के इस फैसले से जो भी छेड़खानी करेगा उसका ड्राइविंग लाइसेंस नही बनेगा। इतना ही नहीं शस्त्र लाइसेंस भी नहीं बनाया जायेगा। यह फैसला शासन की तरफ से बढ़ रही छेड़खानी को रोकने के लिए किया गया है। वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भोपाल गैंगरेप की घटना के बाद सरकार की हो रही किरकिरी के बाद यह निर्णय लिया गया है।

लोगों के मुताबिक शासन के इस कदम को एक सार्थक प्रयास मान रहे हैं, लेकिन कुछ अन्‍य लोगों का कहना है कि इससे भी कड़े कदम उठाने जाने चाहिए थे। वहीं भोपाल कलेक्टर ने निर्देश दिए कि महिलाओं से छेड़छाड़ और अन्य अपराध करने वालों का लेखाजोखा कर महीने पुलिस के साथ एसडीएम और संबंधित विभागों को देगी। जिससे शासन के द्वारा लिये गये इस कदम का सख्‍ती से पालन हो सके।

यह भी पढ़े- भोपाल गैंगरेप: रेप कर ताश खेल रहा था आरोपी , पुलिस ने नहीं, हमने पकड़ा

आगे उन्‍होंने कई अन्‍य विंदुओं पर भी अहम ठोस कदम उठाने की वकालत की। लेकिन उनका सबसे मुख्‍य टारगेट जघन्‍य अपराध को अंजाम देने वाले आरोपी रहे। साथ ही कहा कि, जानकारियां मिलने के बाद से सभी अपराधियों का शस्त्र लाइसेंस, ड्राइविंग लाइसेंस व चरित्र प्रमाण-पत्र जारी शासन के माध्‍यम से जारी नहीं किया जायेगा।

loading...
शेयर करें

आपकी राय