स्मार्टफोन निर्माता कंपनी जियोनी के लिए यह समय है बहुत ही बुरा ,जानें क्यों

0

नई दिल्ली।  दिग्गज मोबाइल कंपनियां  जियोनी , रेडमी जैसी स्मार्टफोन कंपनियों को देखकर हम यह कह सकते है कि मौजूदा समय में भारतीय मोबाइल बाजार में चीन कंपनियों की जबरदस्त पकड़ है। चीन की कुछ कंपनियों ने तो देश में इतिहास रच दिया है। । इममें जियोनी, हुआवेई और  रेडमी जैसी कंपनीयां शामिल है। इन कंपनियों ने  देश में एक नया किर्तिमान स्थापित किया है।

लेकिन इस बात को भी नकारा नही जा सकता कि मध्यम खंड के स्मार्टफोन निर्माताओं के लिए लंबे समय तक बाजार में टिके रहना हमेशा से मुश्किल रहा है, जहां उपभोक्ता की बदलती जरूरतों और तेजी से बदली प्रौद्योगिकी के बीच बाजार में भयंकर प्रतियोगिता होती है और खासतौर से भारत जैसे मूल्य संवेदनशील बाजार में टिके रहना और भी कठिन होता है।

जानें किस कंपनी की मार्केट हो रही खराब

आपको बताते चले कि एक समय पर लोगों के दिलों पर राज करने वाली कंपनी जियोनी इस समय काफी कठिन परिस्थितयों से गुजर रही है। जियोनी को अपने घरेलू मैदान में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, जिसका असर उसके भारतीय कारोबार पर भी पड़ सकता है। ऐसा विशेषज्ञों का कहना है।

जानें कहा से शुरू हुई कंपनी के लिए दिक्कतें

चीनी मीडिया ने जनवरी में जानकारी दी थी कि एक स्थानीय अदालत ने जियोनी के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी लियु ली रोंग के 41.4 फीसदी शेयरों को दो सालों के लिए जब्त कर लिया है। हालांकि इसके पीछे की सही जानकारी अभी तक सार्वजनिक नहीं की गई है, लेकिन कुछ मीडिया रपटों का कहना है कि इसका कारण ‘जुए में हारने के कारण चढ़ी उधारी है।

जियोनी ने एक बयान में अखबार को बताया कि यह मामला अभी भी अदालती प्रक्रिया में है और कंपनी जल्द से जल्द इस मुद्दे को सुलझा लेगी। इससे पहले, भारत में पांच सालों तक घरेलू कारोबार को चलानेवाले जियोनी इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक अरविंद वोहरा ने पिछले अगस्त में इस्तीफा दे दिया था। वोहरा अभी भी कंपनी के कार्यकारी निदेशक बने हुए हैं।

loading...
शेयर करें