स्वच्छता सर्वेक्षण में इन्दौर नंबर 1, भोपाल दूसरे और चंडीगढ़ तीसरे स्थान पर

0

नई दिल्ली। सरकार के स्वच्छता सर्वेक्षण में इंदौर सबसे स्वच्छ शहर के रूप में सामने आया है। इसके बाद भोपाल और चंडीगढ़ का स्थान रहा। केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी ने बुधवार को स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 के नतीजों का ऐलान किया है।

हरदीप पुरी ने बताया कि स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए देश के 4203 शहरों को शामिल किया गया था। इसमें आबादी के अनुसार शहरों की रैंकिंग की गई है। स्वच्छ सर्वेक्षण के तहत जितने तरह की चुनातियां रखी गई थी, उन चुनौतियों के अनुसार भी शहरों की रैंकिंग की गई है। इसके मुताबिक देश के सबसे साफ-सुथरे तीन शहरों में क्रमश: इंदौर, भोपाल आैर चंडीगढ़ शामिल हैं। इन शहरों में स्वच्छता के सभी मापदंडों को बेहतर तरीके से अपनाते हुए इसका पालन किया गया था।

पिछले सर्वेक्षणों की तुलना में इस बार आम नागरिकों से मिली प्रतिक्रिया को खासा महत्व दिया गया था। इंदौर पिछले साल भी सबसे स्वच्छ शहर चुना गया था। उस समय सिर्फ 430 शहरों के लिए सर्वेक्षण कराया गया था। वहीं, इस बार करीब 4200 शहरों को शामिल किया गया था। पुरी ने कहा कि सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले शहरों के नाम उस दिन घोषित किए जाएंगे जिस दिन पुरस्कार दिए जाएंगे।

मध्य प्रदेश के सीएम चौहान ने ट्वीट कर कहा, ‘गर्व और प्रसन्नता का क्षण है कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में हमारे इंदौर और भोपाल ने श्रेष्ठता बरकरार रखते हुए फिर से देशभर में पहला और दूसरा स्थान प्राप्त किया है। इन महानगरों के नागरिकों की जागरूकता, लगन और संकल्प के लिए अभिनन्दन और आभार व्यक्त करता हूं।’

एक अन्य ट्वीट में चौहान ने कहा, ‘स्वच्छता के लिए अथक प्रयास, जागरूकता और नियोजन ने इंदौर और भोपाल को शीर्ष बनाया। ये हमारी नगरीय प्रशासन मंत्री माया सिंह, प्रमुख सचिव विवेक अग्रवाल, उनकी टीम के साथ इंदौर नगर निगम के पूर्व आयुक्त मनीष सिंह के परिश्रम का सुफल है, सभी को बधाई।’

loading...
शेयर करें