राजस्थान में गर्भवती महिलाओं और 2 वर्ष के बच्चों के लिए 23 अप्रैल से शुरू होगा ‘मिशन इंद्रधनुष’

0

जयपुर। राजस्थान के 30 जिलों के चयनित 599 गांवों में ‘ग्राम स्वराज अभियान’ के तहत 23 अप्रैल से ‘मिशन इंद्रधनुष’ अभियान शुरू कर टीकाकरण से वंचित 2 वर्ष की आयुवर्ग तक के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को आवश्यक टीका लगाया जाएगा।

इस अभियान का द्वितीय चरण 21, 22 मई एवं तृतीय चरण 19 एवं 20 जून को होगा। अतिरिक्त मुख्य सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) वीनू गुप्ता ने बुधवार को स्वास्थ्य भवन में आयोजित प्रदेश कार्यबल की बैठक में यह जानकारी दी। उन्होंने सभी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों व जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारियों को चयनित गांवों में 2 वर्ष की आयु तक के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का हेड काउंट सर्वे का सत्यापन कराने व अन्य जरूरी निर्देश दिए।

इसी के साथ उन्होने जिला एवं ब्लाक स्तर पर टास्क फोर्स की नियमित समय पर बैठक आयोजित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने अभियान को प्रभावी बनाने हेतु महिला एवं बाल विकास विभाग, पंचायती राज विभाग, नेहरू युवा केन्द्र सहित विभिन्न विभागों का सहयोग लेने की आवश्यकता जताई। उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग से अपने अधिकारियों एवं कार्मिकों को जानकारी देने के लिए एक वीडियो कांफ्रेंस आयोजित करने एवं सुपर विजन में महिला एवं बाल विकास के उप निदेशक, सीडीपीओ एवं महिला पर्यवेक्षक की सहभागिता लेने पर भी विशेष बल दिया।

स्वास्थ्य सचिव एवं राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशक नवीन जैन ने बताया कि सभी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों व जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारियों को टीकाकरण से छूटे लाभार्थियों का ेहेड काउंट सर्वे कर सत्यापित करने के निर्देश दिए हैं। सभी संबंधित अधिकारियों को मिशन इंद्रधनुष अभियान की राज्य, जिला, ब्लाक एवं सेक्टर स्तर से दैनिक देख-रेख एवं समीक्षा बैठकें आयोजित करने का भी निर्देश दिया गया है। उन्होंने बताया कि संबंधित प्रधान, पंचायत सदस्य एवं सरपंच द्वारा उनके क्षेत्रों में मिशन इंद्रधनुष अभियान का शुभारम्भ किया जायेगा।

loading...
शेयर करें