अपने को पुलिस कर्मी बताने वाले ठगों ने महिला से ठगे लाखों के जेवर

0

देहरादून। उत्तराखंड के एक जिले में एक बहुत ही अजीबोगरीब ठगी की घटना सामने आई है। इस घटना में चोरों ने बहुत ही चालाकी से एक व्रद्ध महिला को ठगी का शिकार बनाया है। मामला कोतवाली अंतर्गत साकेत विहार के सैयद रोड का है। जहां एक बुजुर्ग महिला दंत चिकित्सक के यहां अपना इलाज कराने के लिए आई थी।

इस दौरौन बुजुर्ग महिला से बाइक सवार दो युवक अपने को पुलिस कर्मी बताकर हजारों रुपये के जेवर ले उड़े और बदले में नकली जेवर थमा गए। इस बात की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौकै पर पहुंची और बुजुर्ग महिला से ठगों का हुलिये के बारे में पता किया और पूरे क्षेत्र में चेकिंग अभियान चलाया। पुलिस ने घटनास्थल के आसपास क्षेत्र के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले। इस दौरान  पुलिस को कुछ जानकारी जरूर हाथ लगी है। जिसके आधार पर पुलिस ठगों की धरपकड़ के प्रयास कर रही है।

जानें क्या था पूरा मामला

इस घटना के बारे में मिली जानकारी के मुताबिक  सोमवार को कौशल्या देवी 65 वर्ष पत्नी ओमप्रकाश अग्रवाल निवासी साकेत विहार विकासनगर सैयद रोड पर दंत चिकित्सक के यहां पर उपचार कराने आई थी। इस दौरान दंत चिकित्सक क्लीनिक के बाहर बुजुर्ग महिला के पास बाइक सवार दो युवक आए औक अपने को पुलिस कर्मी बताया। ठगों ने इस बीच बुजुर्ग महिला को हिदायत भी दे डाली की वह खुलेआम गहने पहनकर न चलें, ठगी का खतरा है।

ठगों के द्वारा यह बात कहे जानें के बाद महिला ने अपना सोने का कड़ा, चूड़ी व दो अंगूठियां उतारकर युवकों को दे दिया, युवकों ने असली गहने एक कागज में बंद किए और महिला का ध्यान हटते ही नकली जेवर का कागज का लिफाफा महिला को थमा दिया और बाइक से फरार हो गए।

शक होने पर बुजुर्ग महिला ने कुछ देर बाद कागज का पैकेट खोलकर देखा तो उसके अंदर से नकली जेवर मिलने पर ठगी होने का पता चला। कौशल्या देवी की सूचना पर वरिष्ठ उपनिरीक्षक बलदेव कंडियाल, चौकी प्रभारी बाजार नीरज चौधरी मय पुलिस बल के मौके पर पहुंचे। बुजुर्ग महिला से दोनों ठगों का हुलिया पता किया और कई स्थानों पर चेकिंग अभियान चलाया। पुलिस ने घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले, जिसमें ठगों के बारे में जानकारी मिली है।

loading...
शेयर करें