मुख्य सचिव मारपीट मामला : बड़ा झटका – केजरीवाल के सलाहकार ने दिया इस्तीफा, बताई ये वजह

0

नई दिल्ली। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें दिन पर दिन बढ़ती जा रही हैं। एक बार फिर केजरीवाल को बड़ा झटका लगा है। दिल्ली के मुख्य सचिव के साथ हुई मारपीट के प्रत्यक्षदर्शी और केजरीवाल के सलाहकार वी.के.जैन ने निजी कारणों का हवाला देते हुए पद से इस्तीफा दे दिया है। जैन ने बताया कि उन्होंने निजी कारणों और पारिवारिक प्रतिबद्धताओं की वजह से सोमवार को अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

केजरीवाल के सलाहकार वी.के.जैन

जैन ने मुख्यमंत्री कार्यालय को अपना इस्तीफा सौंपा

जैन ने मुख्यमंत्री कार्यालय को अपना इस्तीफा सौंप कर उसकी एक प्रति उपराज्यपाल को भेज दी है। गौरतलब है कि दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड के सीईओ पद से सेवा निवृत्त होने के कुछ ही दिन बाद जैन को सितंबर, 2017 में इस पद पर नियुक्त किया गया था। जैन 1984 बैच के दानिक्स अधिकारी थे, जिन्हें पदोन्नत कर आईएएस बनाया गया। उन्हें मुख्यमंत्री के सलाहकार का पद संभालने के बाद दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड (डीयूएसआईबी) का सीईओ नियुक्त किया गया।

मुख्यमंत्री के सलाहकार सप्ताह भर के चिकित्सा अवकाश पर चले गए थे

केजरीवाल के सलाहकार वी.के.जैन सप्ताह भर के चिकित्सा अवकाश पर चले गए थे। वह मुख्य सचिव पर कथित हमले के बाद से दफ्तर नहीं आ रहे थे। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में अदालत में कहा था कि जैन ने पूछताछ के दौरान बताया कि उन्होंने विधायकों प्रकाश जरवाल और अमानतुल्लाह खान को उस रात मुख्यमंत्री आवास पर मुख्य सचिव को घेरते और उनपर हमला करते हुए देखा था।

दो विधायकों को मुख्य सचिव के साथ मारपीट करते देखा है

बता दें कि पिछले महीने मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने आरोप लगाया था कि 19 फरवरी को मुख्यमंत्री आवास पर केजरीवाल की उपस्थिति में आम आदमी पार्टी के दो विधायकों ने उनके साथ मारपीट की थी। उन्हें वहां एक आपात बैठक के लिए बुलाया गया था। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने बताया कि इस घटना के प्रत्यक्षदर्शी जैन ने कहा है कि उन्होंने आम आदमी पार्टी के दो विधायकों को मुख्य सचिव के साथ मारपीट करते देखा है।

loading...
शेयर करें