दिल्ली सीलिंग मामला : कांग्रेस और ‘आप’ आए साथ – बीजेपी ने नहीं दिया साथ, बैठक में नहीं लिया भाग

0

नई दिल्ली। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और कांग्रेस की दिल्ली के अध्यक्ष अजय माकन ने कहा कि सभी दलों का एक प्रतिनिधिमंडल सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित निगरानी समिति से राजधानी में चल रहे सीलिंग अभियान का समाधान तलाशने के लिए मुलाकात करेगा। इस मामले को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल ने एक बैठक बुलाई थी जिसमें विपक्ष को भी न्योता भेजा गया था। बैठक में कांग्रेस ने हिस्सा लिया लेकिन बीजेपी नदारद रही।

सीलिंग अभियान

कांग्रेस और आप ने बीजेपी पर साधा निशाना

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और अन्य मंत्रियों के साथ केजरीवाल के आवास पर बैठक के बाद सिसोदिया और माकन ने अलग-अलग यह बयान दिया। माकन और सिसोदिया ने अलग अलग मीडिया को संबोधित करते हुए केजरीवाल के निमंत्रण के बावजूद बैठक में हिस्सा नहीं लेने के लिए भाजपा पर निशाना साधा।

भाजपा मुद्दे पर राजनीति कर रही है

सिसोदिया ने कहा, यह बहुत दुख की बात है कि भाजपा बैठक में नहीं आई लेकिन मुद्दे पर राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा शामिल होना चाहे तो सीलिंग के मुद्दे पर एक और बैठक बुलाई जा सकती है। अगर भाजपा चाहे तो मुद्दे का समाधान एक दिन में हो सकता है। सिसोदिया ने यह भी कहा कि भाजपा सीलिंग का कोई समाधान नहीं तलाशना चाहती है।

भाजपा इसके माध्यम से एफडीआई का रास्ता तैयार करना चाहती है

उन्होंने कहा, भाजपा सीलिंग अभियान के माध्यम से एफडीआई (प्रत्यक्ष विदेशी निवेश) का रास्ता तैयार करना चाहती है। यह अभियान भाजपा के समर्थन से चलाया जा रहा है। दोनों नेताओं ने कहा, आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस के सांसद मुद्दे को संसद में उठाएंगे। माकन ने कहा कि सीलिंग अभियान शुरू होने के बाद से दिल्ली सरकार ने निगरानी समिति से मुलाकात नहीं की है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल भी समिति से मिलने पर सहमत हैं।

loading...
शेयर करें