बच्चों की मौत के आरोपी डॉ. कफील खान की जमानत याचिका खारिज

0

गोरखपुर। बाबा राघव दास (बीआरडी) मेडिकल कॉलेज के अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से हुई बच्चों की मौत के मामले में जेल में बंद डॉ. कफील खान की जमानत याचिका इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मंगलवार को खारिज कर दी।

डॉ. कफील की याचिका में गिरफ्तारी पर रोक और एफआईआर रद्द करने मांग की गई थी। इस याचिका के ख़ारिज होने के बाद अब कफील खान को जमानत मिलने में समस्या आ सकती है। जस्टिस रमेश सिन्हा और अनिरुद्ध सिंह की बैंच ने सुनवाई करते हुए बीआरडी मेडिकल कॉलेज के असिस्टेंट अकाउंटेंट क्लर्क संजय त्रिपाठी की भी अर्जी खारिज कर दी है।

आपको बता दें कि गत दिनों हुई बच्चों की मौत के मामले में 2 सितंबर को डॉ कफील खान को गिरफ्तार किया गया था। वहीं इसके पहले बीआरडी अस्पताल के प्रिंसिपल डॉ राजीव मिश्र और उनकी पत्नी डॉ पूर्णिमा शुक्ला को पुलिस ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में लिया था। गोरखपुर कोर्ट ने सात अन्य डॉक्टर्स के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था, जोकि पिछले काफी दिनों से फरार हैं।

गोरखपुर हादसे में जो लोग पुलिस की पूछताछ से बच रहे हैं और फरार हैं, इसमें एनेस्थिसिया के हेड डॉ सतीथ कुमार, एईएस विभाग के हेड डॉ कफील खान, पुष्पा सेल्स के मनीष भंडारी, चीफ फार्मासिस्ट गजेंद्र जयसवाल, अकाउंट डिपार्टमेंट का क्लर्क उदय प्रताप सिंह, संजय कुमार, सुधीर कुमार है। इन लोगों के खिलाफ धारा 120-बी, 308 और 420 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

इन तमाम आरोपियों के खिलाफ गोरखपुर की पुलिस ने गोरखपुर कोर्ट में अपील दायर की थी, जिसके बाद कोर्ट ने इन सबके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था। इन सभी आरोपियों के खिलाफ 24 अगस्त को एफआईआर दर्ज की गई थी। डॉ राजीव मिश्र और उनकी पत्नी पूर्णिमा शुक्ला को एसटीएफ पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था।

 

 

loading...
शेयर करें

आपकी राय