इलाहाबाद: मौनी अमावस्या पर लाखों लोगों ने लगाई आस्था की डुबकी

0

इलाहाबाद। संगम की नगरी इलाहबाद में मंगलवार को मौनी अमावस्या के मौके पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। सबसे पहले आखाड़े के संतों ने संगम में डुबकी लगायी। इसके बाद लाखों श्रद्धालुओं इस पवन मौके पर आस्था की डुबकी लगाकर पुण्य कमाया।

इस मौके पर अखाड़ा परिषद् के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी, आनन्द गिरी समेत कई अखाड़ों के संतों ने भी संगम में आस्था की डुबकी लगाई। आपको बता दें कि माघ महीने में आने वाली पहली अमावस को मौनी अमावस्या नाम से जाना जाता है।

आज के दिन की ख़ास मान्यता है। पुराणों के मुताबिक  मान्यता है कि इस दिन व्रत रखने से देवताओं से पुण्य की प्राप्ति होती है और पितरों को शांति मिलती है। मौनी अमावस्या को भौमवती अमावस्या और मौन अमवस्या भी कहा जाता है। आज के दिन संगम में स्नान व दान पुण्य का खास महत्व है। कहा जाता है की जो लोग आज के दिन मौन रहकर स्नान करते हैं उन्हें पुण्य की प्राप्ति होती है। स्नान से पूर्वजों को शांति मिलती है।

प्रशासन ने मौनी अमावस्या के पर्व को लेकर सुरक्षा की व्यापक तैयारी भी की है। प्रशासन के मुताबिक आज के दिन करीब दो करोड़ श्रद्धालुओं के संगम में स्नान की उम्मीद है।

 

loading...
शेयर करें