भारत में बढ़ती रेप घटनाओं से US भी परेशान, ट्रैवल एडवाइजरी जारी कर अपने नागरिकों को चेताया

0

वाशिंगटन। अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए भारत समेत कुछ अन्‍य देशों के लिए नई यात्रा एडवाइजरी जारी की है। इस लिस्‍ट में भारत को दूसरे और पाकिस्‍तान को तीसरे नंबर पर रखा गया है। वहीं अफगानिस्तान को चौथें नंबर पर रखा है।

अमेरिका

बता दें, अमेरिका ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि जो नागरिक भारत की यात्रा करना चाहते हैं उन्‍हें थोड़ी सावधानी बरतने की जरूरत है जबकि, पाकिस्‍तान की यात्रा पर जाने के लिए दोबारा सोचने की सलाह दी गई है। इसके अलावा अफगानिस्तान की यात्रा न करने की सलाह दी गई है।

वहीं विदेश मंत्रालय ने कहा कि हर देश की अपनी ट्रैवल एडवाइजरी होती है जोकि पुराने नियमों से बदली जाती है। इस तरह के बदलावों से यूएस नागरिकों को दुनिया भर के देशों के बारे में जानकारी दी जाती है जिससे वह अपनी सुरक्षा को देखते हुए यात्रा करें। इसके अलावा भारत को अपनी एडवाइजरी में दूसरे नंबर पर रखते हुए मंत्रालय ने कहा कि भारत में अपराध और आतंकवाद बहुत ज्यादा है।

मंत्रालय ने एडवाइजरी में कहा कि अमेरिकी नागरिकों को जम्मू-कश्मीर की यात्रा नहीं करनी है। साथ ही भारत-पाकिस्तान बॉर्डर के 10 मील तक दूर रहने की भी सलाह दी गई है। क्‍योंकि वहां हमेशा ही दोनों देश की सेनाओं के बीच लड़ाई-झगड़ा होता है। मंत्रालय ने साफ किया कि वह हर देश के लिए अलग से एडवाइजरी जारी करेगा जिसमें स्पेशल लोकेशन्स के लिए अलग से बताया जायेगा।

नई ट्रैवल एडवाइजरी जारी करते हुए कहा गया है कि भारतीय अधिकारियों की रिपोर्ट आई है। इस रिपोर्ट से पता चलता है कि भारत में सबसे ज्‍यादा ‘रेप’ की घटनाएं होती हैं। वहीं पूर्वी क्षेत्र में आतंकवाद फैला हुआ है। आतंकी बिना किसी चेतावनी के हमला कर देते हैं। ऐसे में वह टूरिस्ट को भी अपना निशाना बना सकते हैं।

पाकिस्‍तान के लिए नई एडवाइजरी जारी करते हुए कहा गया है कि पाक जाने के लिए दोबारा सोचने की जरूरत है। क्‍योंकि सबसे ज्‍यादा आतंकवाद पाक में फैला हुआ है। इसके साथ ही बलूचिस्तान जाने के लिए नागरिकों को सख्‍त हिदायत दी गई है। उनसे यह भी कहा गया है कि वह पाक अधिकृत कश्मीर में भी न जाएं क्योंकि यह सेंसटिव एरिया है।

loading...
शेयर करें