अंकित मर्डर– मुआवजे की बात पर शोकसभा बीच में ही छोड़कर चले गए केजरीवाल

0

नई दिल्ली। ऑनर किलिंग के एक मामले में लड़की के परिजनों ने अंकित की हत्या कर दी थी। बीते सोमवार को दिल्ली के ख्याला में अंकित की तेरहवीं का कार्यक्रम था। इसमें सीएम अरविंद केजरीवाल पूरे दल-बल के साथ पहुंचे। यहां अंकित के पिता द्वारा मुआवजे की राशि की घोषणा करने के सवाल पर केजरीवाल बीच सभा से उठकर चल दिए।

उनके जाने का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। उनके जाते समय पीछे से अंकित के पिता द्वारा कहा गया कि प्लीज मेरा साथ गेम मत खेलो। केजरीवाल की इस हरकत से फिलहाल वो मुश्किल में पड़ते नजर आ रहे हैं।

मुआवजे की राशि 1 करोड़ देने की मांग
दिल्ली सरकार ने अंकित के परिवार के लिए 5 लाख रुपए के मुआवजे की घोषणा की थी। मगर उनके परिवार व विपक्षी दलों के नेताओं द्वारा 1 करोड़ रुपए देने की मांग की गई है। अंकित की शोकसभा में केजरीवाल के अलावा कई प्रमुख दलों के नेता पहुंचे थे। आप से निकाले जा चुके कपिल मिश्रा ने केजरीवाल के द्वारा अंकित की शोकसभा को बीच में छोड़कर जाने का एक वीडियो भी शेयर किया है।

कपिल मिश्रा ने मामले पर बयान देते हुए कहा कि अंकित के घरवालों ने जब कहा की जीवन यापन मुश्किल हो रहा है आप एक सहायता राशि की घोषणा कीजिए तो उनके बोलते हुए ही मुख्यमंत्री उठ के चल दिए। अंकित के पिता पीछे से उन्हें पुकारते रहे और अंत में उन्हें कहना पड़ा कि मेरे साथ गेम मत खेलो। ये बहुत अपमानजनक है, क्या मुख्यमंत्री वहां उनका अपमान करने गए थे। शोक सभा से ऐसे नहीँ जाया जाता।

दिल्ली भाजपा अध्येक्ष मनोज तिवारी ने भी अंकित के परिवार को एक करोड़ रुपए का मुआवजा देने की मांग की। मनोज तिवारी ने कहा कि अगर दिल्ली सरकार एमएम खान की मौत पर एक करोड़ रुपए दे सकती है तो अंकित सक्सेना के परिवार वालों को क्यों नहीं। उन्होंीने आरोप लगाया कि दिल्ली सरकार साम्प्रदायिक भेदभाव कर रही है।

इससे पहले केजरीवाल ने मुआवजे की बात को लेकर कहा था कि वो नहीं चाहते हैं कि मुआवजे की राशि को लेकर कोई विवाद हो।

मुस्लिम लड़की से प्यार करने के चलते हुई थी अंकित की हत्या
अंकित की मुस्लिम लड़की से प्यार करने पर लड़की के परिजनों द्वारा उसकी हत्या कर दी गई थी। फोटोग्राफी करने वाला 23 साल का अंकित सक्सेना अपना यूट्यूब चैनल भी चलाता था। वह वेस्ट दिल्ली की खयाला इलाके में रहने वाली लड़की से प्यार करता था। दोनों शादी करने वाले थे। एक फरवरी को अंकित लड़की से मिलने गया था। इसी दौरान लड़की के घरवालों ने अंकित पर धारदार हथियार से हमला कर दिया था।

दोनों अलग-अलग कम्युनिटी से थे, इसलिए लड़की की फैमिली को रिलेशनशिप नामंजूर थी। पुलिस ने हत्या के आरोप में लड़की के माता-पिता और चाचा को अरेस्ट कर लिया है। वहीं, नाबालिग होने पर आरोपी भाई को जुवेनाइल होम भेजा गया।

loading...
शेयर करें