‘सनी लियोनी की फिल्म देखने से पहले सिनेमाघर में राष्ट्रगान बजाना अपमानजक’

0

मुंबई। फिल्ममेकर मुकेश भट्ट ने पोर्न एक्ट्रेस से बॉलीवुड एक्ट्रेस बनी सनी लियोनी के बारे में विवादित बयान दिया है। मुकेश का ये बयान उनके लिए बड़ी मुसीबत बन सकता है। उन्होंने कहा है कि सनी लियोनी की फिल्म से पहले सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान बजाना उसका अपमान करना है।

दरअसल, हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने ये फैसला सुनाया है कि सिनेमाघरों में फिल्म की शुरुआत से पहले नेशनल एंथम बजाना अनिवार्य नहीं है। इस पर मुकेश भट्ट से जब उनकी राय मांगी तो उन्होंने कहा, “हम फैसले का सम्मान करते हैं। क्योंकि राष्ट्रगान की पवित्रता बनाए रखना बेहद जरूरी है। इसे सिर्फ स्कूल या एजुकेशनल इंस्टिट्यूशंस में ही बजाया जाना चाहिए, एंटरटेनमेंट पार्लर्स में नहीं। क्योंकि वहां इसका अपमान होता है।”

मुकेश ने आगे कहा, “अगर आप सनी लियोनी की फिल्म देखने जा रहे हैं तो कैसे ऑडिटोरियम में नेशनल एंथम बजाया जा सकता है। कोई अन्य फिल्म भी हो सकती है। एंटरटेनमेंट की जगह पर नेशनल एंथम की गरिमा के साथ समझौता हो गया था। मैं सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करता हूं। क्योंकि इस फैसले से नेशनल एंथम को बहुत सम्मान मिलेगा।”

फिलहाल सनी का इसपर कोई बयान नहीं आया है। बता दें, सनी लियोनी पहले एक पोर्न स्टार थीं। हालांकि बॉलीवुड में एंट्री के बाद अब उन्होंने पोर्न इंडस्ट्री से किनारा कर लिया है। सनी को बॉलीवुड में पहला ब्रेक ‘जिस्म 2’ फिल्म में मिला था और उन्हें ये मौका देने वाले और कोई नहीं बल्कि मुकेश भट्ट के भाई महेश भट्ट थे। दोनों ही भाई बोल्ड और हॉरर फिल्मों के लिए जाने जाते हैं।

loading...
शेयर करें