बीजेपुर उपचुनाव रिजल्ट : एकतरफा जीती ये बड़ी पार्टी, बीजेपी और कांग्रेस का हुआ सूपड़ा साफ

0

भुवनेश्वर। ओडिशा के बारगढ़ जिले में बीजेपुर उपचुनाव में सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजद) की उम्मीदवार रीता साहू ने बड़ी मात्रा से जीत हासिल कर ली है। रीता ने अपने प्रतिद्वंद्वी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार अशोक पाणिग्रही को 41,933 मतों से हराया। वहीं, कांग्रेस उम्मीदवार प्रणय साहू तीसरे स्थान पर रहे।

बीजेपुर उपचुनाव

रीता साहू ने बीजद के टिकट पर उपचुनाव लड़ा

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार आखिरी चरण की मतगणना के बाद बीजद प्रत्याशी रीता साहू को 1,02,871 मत मिले। जबकि भाजपा उम्मीदवार अशोक पाणिग्रही को 69,938 मत मिले थे। वहीं, कांग्रेस उम्मीदवार प्रणय साहू को मात्र 10,274 मत ही मिले। इस सीट से इससे पहले कांग्रेस के सुबल साहू विधायक थे। उनके निधन के कारण यहां उपचुनाव हुआ। सुबल साहू की विधवा रीता साहू ने बीजद के टिकट पर उपचुनाव लड़ा और उनके जीतने के पूरे आसार हैं।

 

चुनाव को 2019 के आम चुनाव की तैयारियों के रूप में देखा जा रहा है

इसके परिणाम बीजद, भाजपा और कांग्रेस तीनों के लिए महत्वपूर्ण हैं क्योंकि इसे 2019 के आम चुनाव की तैयारियों के रूप में देखा जा रहा है। भाजपा के अशोक पाणिग्रही साल 2000 में बीजेपुर विधानसभा सीट जीत चुके हैं। वहीं, इसके अलावा आज मध्य प्रदेश की दो सीटों पर हुए उपचुनाव की मतगणना भी हो रही है।

मप्र में भी बीजेपी की हालत खराब

मप्र में दसवें राउंड की मतगणना के बाद मुंगावली सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार 3622 मतों से आगे चल रहे हैं। वहीं, दसवें राउंड की मतगणना के बाद कोलारस सीट पर भी कांग्रेस उम्मीदवार 3436 मतों से आगे चल रहे हैं। मुंगावली उपचुनाव में कुल 13 उम्मीदवार मैदान में हैं, जबकि मुख्य मुकाबला कांग्रेस के उम्मीदवार बृजेन्द्र सिंह यादव और बीजेपी उम्मीदवार श्रीमती बाई साहब यादव के बीच है। कोलारस में कुल 22 उम्मीदवार इस चुनावी समर में है। मुख्य मुकाबला कांग्रेस के महेन्द्र सिंह यादव और बीजेपी के देवेन्द्र जैन के बीच है। इन दोनों सीट पर 24 फरवरी यानी शनिवार को वोटिंग हुई थी।

loading...
शेयर करें