अहमद पटेल पर कभी बीजेपी ने लगाया था आतंकी से संबंध का आरोप, आज उन्हें सौंपी ये बड़ी जिम्मेदारी

0

अहमदाबाद। गुजरात की भाजपा सरकार ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल को एक बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। बीजेपी ने अहमद पटेल को गुजरात राज्य वक्फ बोर्ड का सदस्य नियुक्त किया है। पटेल बोर्ड में नवनियुक्त 10 सदस्यों में शामिल हैं। राज्य के विधि विभाग ने एक अधिसूचना के जरिए नियुक्तियों का ऐलान किया था।

राज्यसभा सांसद अहमद पटेल

पटेल में अलावा इन लोगों को बनाया गया सदस्य

बता दें कि वक्फ बोर्ड मुस्लिमों से संबंधित धार्मिक या खैराती संपत्तियों की देखभाल करता है। विधि विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि बोर्ड के पिछले सदस्यों और बोर्ड के चेयरमैन एआई सैयद का कार्यकाल काफी पहले समाप्त हो गया था। राज्यसभा सांसद अहमद पटेल के अलावा, वांकानेर से विधायक मोहम्म्द जावेद पीरजादा को भी सदस्य बनाया गया। अन्य सदस्यों में सज्जाद हीरा, अफजल खान पठान, अमाद भाई जाट, रूकैया गुलामहुसेनवाला, बद्र उद्दीन हलानी, मिर्जा साजिद हुसैन, सिराज भाई मकडिया और असमा खान पठान शामिल हैं।

2017 में अहमद पटेल कांग्रेस से राज्यसभा चुनाव जीते थे

बता दें कि अगस्त 2017 में अहमद पटेल कांग्रेस से राज्यसभा चुनाव जीते थे। अहमद पटेल ऐसे नेता हैं जो टेलीविजन कैमरों की चकाचौंध से दूर रहने और पर्दे के पीछे से राजनीत करने में यकीन रखते हैं। कांग्रेस पार्टी में उनका कद सोनिया गांधी और राहुल गांधी के बाद तीसरे नंबर का माना जाता है। तीसरे नंबर की हैसियत रखते हुए भी पटेल कांग्रेस की सियासत पर अपनी मजबूत पकड़ रखते हैं।

सीएम रुपाणी ने अहमद पटेल पर लगाया था आतंकी से संबंध का आरोप

गौरतलब हो कि गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने अहमद पटेल से राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने की मांग करते हुए आरोप लगाया था कि गिरफ्तार किया गया आतंकी संगठन आईएसआईएस का एक संदिग्ध सदस्य उस अस्पताल में काम करता था, जहां पटेल पहले एक ट्रस्टी थे। सीएम ने पटेल पर आतंकी से संबंध होने का आरोप लगाया था, हालांकि अहमद पटेल में इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था।

loading...
शेयर करें