कांग्रेस पर हमला करने वाली बीजेपी की खुली पोल, इस तरह चुना जाता है पार्टी का अध्यक्ष

0

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की ताजपोशी की तैयारियां जोरों-शोरों से चल रही है। सोमवार को उन्होंने अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन भी कर दिया है। जिसमें उनका निर्विरोध चुना जाना निश्चित हैं। अब बस इन्तजार है तो उस तारीख का, जब उनके अध्यक्ष होने का औपचारिक रूप से ऐलान किया जाएगा। लेकिन उनकी इस ताजपोशी को लेकर आवाजें भी उठने लगी है। खासकर, बीजेपी राहुल गांधी के चयन को लेकर तरह तरह का तंज कसती नजर आ रही है। हालांकि बीजेपी को कांग्रेस पर तंज कसने से पहले खुद को भी टटोलना चाहिए।

दरअसल, बीजेपी शुरुआत से ही परिवारवाद को लेकर कांग्रेस पर आरोप लगाती रही है। ऐसा इसलिए है क्योंकि कांग्रेस की कमान अधिकतर गांधी परिवार के हाथ में ही रही है। लेकिन ऐसा नहीं है। कांग्रेस में पीवी नरसिम्हा राव, सीताराम केसरी राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर रह चुके हैं, जो चुनाव के बाद ही पार्टी के नेता चयनित हुए थे। बीजेपी शुरुआत से ही आरोप लगा रही है कि कांग्रेस के अध्यक्ष पद का चुनाव कभी भी निष्पक्ष और लोकतांत्रिक रूप से नहीं हुआ। लेकिन बीजेपी को अपने जिराहबान में झांककर यह सोचना चाहिए कि आखिरी बार कब बीजेपी का राष्ट्रीय अध्यक्ष लोकतांत्रिक रूप से या फिर चुनाव के द्वारा चुना गया है।

अगली स्लाइड में पढ़ें: आखिरी बार कब हुआ था बीजेपी में अध्यक्ष पद का चुनाव

पिछली स्लाइड को देखें 1 of 3
loading...
शेयर करें

आपकी राय