जम्मू : नहीं थम रहे आतंकी हमले – अब तक 7 जवान शहीद, करन नगर में मुठभेड़ जारी

0

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के हमले रुकने का नाम नहीं ले रहे। सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ मंगलवार को भी जारी है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सीआरपीएफ कैंप के नजदीक स्थित इमारत में 4 आतंकी अभी भी छिपे हुए हैं जिन्होंने एक बार फिर कैंप में हमले की कायराना कोशिश की। सुंजवान सैन्य शिविर में तलाशी के दौरान एक और जवान का शव बरामद होने के बाद जम्मू में हुए आतंकवादी हमले के मृतकों की संख्या बढ़कर सात हो गई है। खबर है कि एक इमारत में छिपे आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच आज (13 फरवरी) सुबह फिर से मुठभेड़ शुरू हो गयी।

शव सोमवार शाम को तलाशी अभियान के दौरान बरामद हुआ

सेना ने कहा कि छठे जवान का शव सोमवार शाम को तलाशी अभियान के दौरान बरामद हुआ। इसके बाद इस सैन्य शिविर पर शनिवार को हुए हमले में मृतकों की संख्या बढ़कर सात हो चुकी है। इस हमले में छह जवान शहीद हो चुके हैं और एक नागरिक की जान चली गई है। इसके अलावा महिलाओं और बच्चों सहित 10 अन्य घायल हैं।

ऑपरेशन जुल्फिकार हसन ने एनकाउंटर जारी रहने की पुष्टि की है

सीआरपीएफ के आईजी ऑपरेशन जुल्फिकार हसन ने एनकाउंटर जारी रहने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा है कि एनकाउंटर में इस बात का ख्याल रखना पड़ रहा है कि नागरिकों और संपत्ति को नुकसान न पहुंचे। करण नगर में फिलहाल दोनों ओर से रह-रहकर फायरिंग हो रही है। सीआरपीएफ जवानों ने बिल्डिंग को घेर लिया है। यह घटना जम्मू के सुंजवान इलाके में आर्मी कैंप पर आतंकियों के हमले के दो दिन के बाद हई है।

जम्मू में छिपे संदिग्ध आतंकियों के सफाये का अभियान चला रही है

इस बीच सेना फिलहाल जम्मू में छिपे संदिग्ध आतंकियों के सफाये का अभियान चला रही है। जम्मू के रायपुर डोमाना इलाके में सेना हेलीकॉप्टर के जरिये सर्विलांस कर रही है। गौरतलब है कि 10 फरवरी को भारी हथियारों से लैस जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी ग्रेनेड फेंकते हुए और स्वचालित हथियारों से गोलीबारी करते हुए सुंजवान स्थित सैन्य शिविर में घुस आए थे। पाकिस्तानी मूल के तीनों आतंकवादी जूनियर कमिशन्ड ऑफिसर के आवासीय क्वार्टर में प्रवेश करने में कामयाब रहे थे, जिन्हें बाद में सुरक्षा बलों ने मार गिराया।

loading...
शेयर करें