CBSE पेपर लीक : परीक्षा प्रभारी से चार घंटे चली पूछताछ, इस दिन होगा दोबारा परीक्षा की तारीख का ऐलान

0

नई दिल्ली। सीबीएसई की 10वीं की गणित और 12वीं के इकोनॉमिक्स के पेपर लीक मामले में अध्यक्ष अनिता करवाल ने गुरुवार को कहा कि प्रश्नपत्र लीक मामले में परीक्षाओं का दोबारा से आयोजन करने का फैसला छात्रों के पक्ष में है। उन्होंने कहा है कि सोमवार या मंगलवार तक दोबारा परीक्षा की तारीख का ऐलान किया जाएगा।

उन्होंने कहा, “हमने छात्रों के पक्ष में फैसला लिया है। जो उचित है, उसी के पक्ष में यह फैसला है। हम जल्द ही उन्हें परीक्षा की तारीख बताएंगे। चिंता मत कीजिए।”

जांच के लिए दिल्ली पुलिस ने अपनी अपराध शाखा का एक विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित किया है। जानकारी के अनुसार सीबीएसई की परीक्षा प्रभारी से पुलिस ने चार घंटों तक पूछताछ की है। जानकारी यह भी आ रही है कि करीब 1000 छात्रों तक पेपर पहुंचा है।

एक अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी। पुलिस ने कहा कि पुराने राजिंदर नगर में गणित और विज्ञान विषय पर कोचिंग सेंटर चलाने वाले विक्की को 10वीं और 12वीं कक्षा के लीक पेपरों का प्रसार करने में कथित रूप से उसकी भूमिका के लिए हिरासत में लिया गया है।

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, “सीबीएसई अधिकारियों ने 23 मार्च को एक अज्ञात शख्स द्वारा फैक्स के माध्यम से शिकायत प्राप्त की थी कि विक्की प्रश्नपत्र लीक में शामिल हैं।”

अधिकारी ने कहा कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की शिकायत पर अपराध शाखा ने प्राथमिकी दर्ज की थी, जिसमें विक्की का नाम भी शामिल था।

उन्होंने कहा कि दिल्ली के एक व्यापारी से भी पूछताछ की जा रही है। इसे कुछ छात्रों की शिकायत के बाद हिरासत में लिया गया है। छात्रों ने कहा था कि उन्होंने इसके माध्यम से ही व्हाटस एप पर प्रश्नपत्र हासिल हुए थे।

उधर केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को कहा कि सीबीएसई पेपर लीक मामले के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा और लीक के सूत्रों का पता लगाने के लिए पुलिस जांच के अलावा आंतरिक जांच भी की जाएगी।

 

loading...
शेयर करें