CBSE : स्टूडेंट्स पांच साल तक करा सकेंगे डेट ऑफ़ बर्थ में सुधार  

0

दिल्ली। सीबीएसई के स्टूडेंट्स को बोर्ड ने एक बड़ी राहत दी है। सभी अपनी डेट ऑफ़ बर्थ के रिजल्ट में सुधार रिजल्ट आने के पांच साल तक कर सकते हैं। पहले इसके लिए एक साल की लिमिट दी जाती थी जो अब बढ़कर पांच साल तक कर दी गयी है।

यह भी पढ़ें, सरकारी स्कूलों में इस दिन शुरू होंगे प्री-बोर्ड

CBSE

बता दें, बीते दिनों शुक्रवार को बोर्ड के एग्जामिनेशन कंट्रोलर के। के। चौधरी ने एक सर्कुलर जारी करते हुए इस बात का ऐलान किया। इसके मुताबिक, 2015 से यह टाइम लिमिट लागू होगी। यह व्यवस्था 10वीं और 12वीं दोनों क्लास के स्टूडेंट्स के लिए है। नई व्यवस्था के अनुसार स्टूडेंट, उसके पिता और मां की डेट ऑफ बर्थ में सुधार किया जा सकता है।

इसके अलावा बोर्ड ने यह भी साफ़ किया है कि यह लिमिटेशन पीरियड कोर्ट में चल रहे पेंडिंग केस, अभी रिसीव किये गए मामले और इसके बाद भी मिल रहे मामलों के लिए लागू होगा। हालांकि अभी तक यह नियम था कि एक साल में भेजी गयी जितनी एप्लीकेशन हैं उन्हें बोर्ड ही देखेगा। लेकिन, अब इसमें बदलाव किया गया है।

loading...
शेयर करें

आपकी राय