चंडीगढ़ में हुए चुनाव के चौंकाने वाले नतीजे आए सामने, राहुल गांधी को नहीं हो रहा यकीन

0

नई दिल्ली। बीते दिनों हुए गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने जीत तो जरूर हासिल कर ली थी, लेकिन इस बार मोदी के गढ़ में बीजेपी को कांग्रेस ने कड़ी चुनौती दी थी। यहां बीजेपी को केवल 99 सीटें ही मिली थीं, वह 100 का आकड़ा नहीं छू पाई थी। वहीं, अब बीजेपी के लिए खुशी की खबर आ रही है। इस बार कांग्रेस के राज्य पंजाब में बीजेपी ने बाज़ी मारी है।

यह भी पढ़ें : 2019 चुनाव जीतने के लिए मोदी ने चला सबसे बड़ा दांव – ये 2 करोड़ लोग दिलाएंगे बीजेपी को जीत

चंडीगढ़ नगर निगम में बीजेपी का डंका

चंडीगढ़ नगर निगम के महापौर, वरिष्ठ उप महापौर और उप महापौर के लिए मंगलवार को हुई वोटिंग में तीनों पदों पर बीजेपी ने जीत दर्ज की है। 27 सदस्यीय चंडीगढ़ नगर निगम में बीजेपी के देवेश मोदगिल महापौर पद पर विजयी हुए हैं। वहीं बीजेपी के ही गुरप्रीत सिंह ढिल्लों ने वरिष्ठ उप महापौर और विनोद अग्रवाल ने उप महापौर के पद पर जीत दर्ज की है। मोदगिल चंडीगढ़ नगर निगम के 22वें महापौर होंगे।

यह भी पढ़ें : इस साल बजट में मोदी सरकार करने जा रही सबसे बड़ा ऐलान, 2019 से पहले आ जाएंगे ‘अच्छे दिन’

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अगुवाई में कांग्रेस चित

गौर करने वाली बात यह है कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अगुवाई में कांग्रेस की सरकार होने के बावजूद चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में बीजेपी ने जीत दर्ज की है। बताया जा रहा है कि चंडीगढ़ निकाय चुनाव में कांग्रेस की जीत सुनिश्चित करने के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने तैयारी की थी। मोदगिल को 22 मत मिले जबकि कांग्रेस प्रत्याशी देवेंद्र सिंह बाबला को पांच मत मिले।

एक वोट भाजपा की मौजूदा सांसद किरण खेर का है

चंडीगढ़ नगर निगम में भाजपा के 20, कांग्रेस के चार, शिरोमणि अकाली दल के एक उम्मीदवार हैं जबकि एक निर्दलीय और एक वोट भाजपा की मौजूदा सांसद किरण खेर का है। नौ मनोनीत पार्षद इस साल वोट नहीं कर पाए क्योंकि पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने अगस्त 2017 को उनके वोट देने के अधिकार पर रोक लगा दी थी।

loading...
शेयर करें