कश्मीर घाटी में छाई बदली, बारिश और बर्फबारी की संभावनाएं बढ़ीं

0

श्रीनगर| कश्मीर घाटी में बुधवार को न्यूनतम तापमान हिमांक बिंदु से नीचे रहा, और घाटी में छाए हल्के बादलों ने आने वाले दिनों में बारिश और बर्फबारी की उम्मीद जगाई है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा, “कारगिल जम्मू और कश्मीर में सबसे ठंडा रहा, जहां तापमान शून्य से 16.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। वहीं, लेह का तापमान शून्य से 11.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।”

श्रीनगर शहर का तापमान शून्य से 1.7 डिग्री नीचे, पहलगाम का शून्य से 2.8 डिग्री नीचे और गुलमर्ग का शून्य से छह डिग्री नीचे दर्ज किया गया। जम्मू में न्यूनतम तापमान 6.8 डिग्री, कटरा में 8.1 डिग्री, बोटोट में 5.2 डिग्री, भदरवाह में 3.2 डिग्री और उधमपुर में 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग ने कहा कि गुरुवार तक आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। कश्मीर घाटी को इस साल चिंताजनक स्थिति का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि अभी तक यहां बहुत कम बारिश या बर्फबारी हुई है। यहां तक कि भीषण सर्दी की 40 दिवसीय अवधि ‘चिल्लई कलां’ 30 जनवरी को समाप्त हो चुकी है, और इस दौरान भी यहां बर्फबारी देखने को नहीं मिली।

घाटी के जलाशयों को गर्मी के मौसम में पानी से भरे रहने के लिए सर्दियों के मौसम में होने वाली बर्फबारी पर निर्भर रहना पड़ता है। अगर फरवरी में भारी बर्फबारी नहीं हुई तो घाटी को गर्मियों के मौसम में सूखे का सामना करना पड़ सकता है।

loading...
शेयर करें