सचिवालय में मीडिया के प्रतिबंध को लेकर, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दी सफाई

0

देहरादून। उत्तराखंड में सचिवालय में मीडिया के प्रतिबंध किये जाने के बाद मिडिया जगत में काफी रोष बढ़ गया, जिसके बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस मामले में सफाई दी और कहा कि सचिवालय में मीडिया पर कोई पाबंदी नहीं है। उन्होने कहा कि गलत और भ्रामक सूचनाओं से जनता के बीच गलत संदेश जा रहा है। मीडिया से अनुरोध किया गया है कि मीडिया खबरों की पुष्टी करने के बाद ही खबरे प्रसारित करे।

क्या था मामला

आपको बताते चले कि बीती 27 दिसंबर को मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने फरमान जारी कर सचिवालय में अनुभागों में अनधिकृत बाहरी व्यक्तियों के साथ पत्रकारों का पूर्णत: प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया था। इस कदम के बाद पत्रकारों व मीडिया समुदाय में काफी रोष था। इसके बाद पत्रकार संगठनों ने इस मुद्दे पर बैठ कर सरकार के फैसलों का विरोध किया। इस मामले में विभिन्न राजनीतिक दल और स्वैच्छिक संगठन भी इस मामले में खुलकर पत्रकारों के समर्थन में आगे आ गए।

जब प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चारों तरफ विरोध के इन सुरों को सुना तब उन्होने इस मामले में आकर सफाई दी।उन्होंने कहा कि सचिवालय में मीडिया पर कोई पाबंदी नहीं है। सूत्रों के हवाले से आने वाली कई खबरें सरकार और मीडिया की विश्वासनीयता को प्रभावित कर रही थी। ऐसे में सूचनाएं अधिकृत हो, गलत और भ्रामक सूचनाएं प्रसारित न हों, इसके लिए जरूरी है कि खबरें पुष्ट करने के बाद ही जारी की जानी चाहिए। इससे जनता के बीच गलत संदेश नहीं जाएगा। पुष्ट खबरें ही प्रसारित करने का अनुरोध किया गया है।

loading...
शेयर करें