राज्यसभा: PM ने चुन-चुनकर किया राहुल पे वार, कहा- कांग्रेस मुक्त भारत गांधी के विचार भी थे

0

नई दिल्ली। बजट सत्र में राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद मंगलवार को पीएम मोदी ने लोकसभा में धन्यवाद ज्ञापन करने के बाद राज्यसभा में भी धन्यवाद प्रस्ताव दिया। राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने संबोधित करते हुए बीजेपी सरकार के उपलब्धियों का बखान किया और कांग्रेस सरकार पर चुन चुन कर तीखा हमला किया।

उन्होंने कहा कि हमारे देश में आरोग्य के क्षेत्र में बहुत कुछ करने की आवश्यकता हैं हमें हेल्थ सेक्टर में बहुत कुछ करने की जरूरत हैं हम देश के लिए आयुष योजना लेकर आएं। आयुष्मान भारत योजना किसी विशेष दल के नहीं बल्कि पुरे देश के लिए है और अगर कांग्रेस को लगता है कि इसमें कुछ कमी है तो सामने आए। रोग से लड़ने में राजनीति नहीं होनी चाहिए। आरोप प्रत्यारोप से कुछ नहीं होगा।

बता दे कि मोदी सरकार ने वित्त वर्ष आम बजट में आयुष्मान भारत योजना शुरू करने की घोषणा की है। जिसके तहत सभी को स्वास्थ सुविधाए उपलब्ध करायी जाएंगी।

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे वो भारत चाहिए जिसकी कल्‍पना महात्‍मा गांधी जी ने की थी। देश जब आजाद हुआ था, तो गांधी जी ने कहा था कि कांग्रेस को खत्‍म कर देना चाहिए। इसलिए कांग्रेस मुक्‍त भारत का सपना मेरा नहीं गांधी जी का था। मुझे लगता है कि कांग्रेस को भ्रष्‍टाचार मुक्‍त भारत नहीं चाहिए। क्या आपको लोकतांत्रिक अधिकारों को छीनने वाला भारत चाहिए? इमर्जेंसी के वक्त को याद दिलाकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए राज्यसभा में पीएम मोदी ने कहा कि हम एक भ्रष्‍टाचार मुक्‍त भारत का सपना देखते हैं। कांग्रेस को न्‍यू इंडिया नहीं चाहिए, तंदूर कांड वाला इंडिया चाहिए।

उन्होंने कहा कि आपको (कांग्रेस) वो भारत चाहिए जहां हजारों लोगों की मौत के जिम्मेदार को जहाज में बिठा कर विदेश ले जाया जाए?, आपको (कांग्रेस) वो भारत चाहिए जहां बड़ा पेड़ गिरने के बाद हज़ारों सिखों का कत्ले आम हो जाए। आपको लाखों को जेल में बंद करने वाला भारत चाहिए। पीएम मोदी ने दोवास का जिक्र करते हुए भी कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि दावोस में आप भी गये थे, हम भी गये थे।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा कहती है कि आधार हम लेकर आए। मगर मैं उन्हें 1998 में राज्यसभा में एलके आडवाणी जी के डीबेट को याद दिलाना चाहुंगा कि उसमें आडवाणी जी ने क्या कहा था। यह वही भाषण था, जिसमें आप आधार की उत्तपत्ति खोज सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमने ऐसा वर्क कल्चर बनाया है जिस से ये सुनिश्चित हो सके कि पैसा जिस काम के लिए निकला था, उसी पर ही इस्तेमाल हो।

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बेनामी संपत्ति का कानून 28 साल पहले पारित हो गया था, लेकिन उसे अधिसूचित नहीं किया गया था। हमारी सरकार के कार्यकाल में 3500 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति जब्‍त की है।

रेलवे बजट में अब सिर्फ घोषणाएं ही नहीं होती हैं, उन्‍हें पूरा किया जाता है। पुरानी सरकार ने 1500 से ज्यादा रेलवे की ऐसी घोषणाएं कर दी थीं, जिन्हें बाद में कोई देखने वाला तक नहीं था। कई रेलवे की बजट घोषणाएं तो ऐसी हैं 30-40 साल से लटकी पड़ी हैं।

loading...
शेयर करें