हैवानियत की हद पार, दरिंदों ने मानसिक रोगी किशोरी से किया दुष्कर्म

0

नैनीताल। उत्तराखंड में एक बार फिर इंसानियत को झकझोर देने वाली घटना सामने आई है। इस घटना में दरिंदो ने एक किशोरी के साथ दुष्कर्म किया और उसके बाद बुरी तरह पिटाई कर जंगल में अर्धनग्न छोड़ कर फरार हो गए। आपको बताते चले की किशोरी दिमाकी स्थिति सही नहीं थी, लेकिन दुष्कर्म के दौरान किशोरी ने यह भाप लिया था कि उसके साथ कुछ गलत हो रहा है, जिसका वह विऱोध करने लगी और इसी बात पर दरिंदो ने उसकी जमकर पिटाई कर दी।

जानें क्या था पूरा मामला

आठ मार्च की रात किशोरी घर से निकलने के बाद इंदिरानगर स्थित एक बरात घर में चली गई थी। बरात घर के बाहर खड़ी किशोरी पर नजर पड़ते ही गौला नदी में मजदूर करने वाले मूल चंद की हैवानियत जाग उठी। वह किशोरी को अगवा कर पैदल ही गौजाजाली की ओर ले गया। आंवलाचौकी गेट के पास पहुंचने पर मूल चंद ने मजदूर भूप सिंह को साथ ले लिया।

दोनों किशोरी को गौला के जंगल में ले गए। मानसिक रोगी होने के बावजूद किशोरी अपने साथ कुछ गलत होने की आशंका को भांप चुकी थी। उसने विरोध किया तो दोनों ने उसे बेरहमी से पीट दिया। किशोरी के सिर, चेहरे व शरीर पर आईं चोटें दोनों मजदूरी की हैवानियत की हद बयां कर रही थीं। दुष्कर्मी उसे जंगल में ही अर्द्धनग्न अवस्था में छोड़ गए। सीसीटीवी की मदद से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। यह सीसीटीवी बरात घर में लगे हुए थे।

loading...
शेयर करें