CWG 2018: ऐतिहासिक जीत के साथ ख़त्म हुआ गोल्ड कोट में भारत का सफ़र

0

गोल्ड कोस्ट। ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में जारी 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में अंतिम दिन भी भारत का शानदार प्रदर्शन जारी रहा। राष्ट्रमंडल खेलो में भारत का अब तक तीसरा सर्वश्रेस्ट प्रदर्शन रहा। भारत ने कुल 66 पदको के साथ ग्लास्गो के 64 पदकों के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए गोल्ड कोस्ट का शानदार सफ़र समाप्त किया। 26 स्वर्ण, 20 रजत और 20 कांस्य पदको के साथ भारत अंक तालिका में तीसरे स्थान पर रहा।

gold_coast

21वें राष्ट्रमंडल खेलों में कुल 71 देशों और टेरेटरीज ने हिस्सा लिया, जिनमें से 43 के हिस्से पदक आए। आस्ट्रेलिया ने 80 स्वर्ण के अलावा 59 रजत और इतने ही कांस्य पदक जीते। कुल 198 पदकों के साथ ऑस्ट्रेलिया पदक तालिका में टॉप पर रहां। इंग्लैंड ने 136 पदकों के साथ दूसरा और भारत ने 66 पदकों के साथ तीसरा स्थान हासिल किया।

इंग्लैंड ने 45 स्वर्ण, इतने ही रजत और 46 कांस्य पदक जीते। भारत ने बेशक चौथे स्थान पर रहे कनाडा (82 पदक) से कम पदक जीते लेकिन उसके स्वर्ण पदकों की संख्या कनाडा से अधिक रही। कनाडा ने 15 स्वर्ण जीते जबकि भारत के नाम 26 स्वर्ण रहे।

भारत ने 20 रजत और इतने ही कांस्य भी जीते जबकि कनाडा के नाम 40 रजत और 27 कांस्य रहे। न्यूजीलैंड ने 15 स्वर्ण, 16 रजत और 15 कांस्य के साथ कुल 46 पदकों के साथ पांचवां स्थान हासिल किया।

दक्षिण अफ्रीका ने 37 पदक (13 स्वर्ण, 11 रजत और 13 कांस्य) जीते जबकि वेल्स ने 36 पदक (10 स्वर्ण, 12 रजत और 14 कांस्य) जीते। स्कॉटलैंड और नाइजीरिया के नाम नौ-नौ स्वर्ण रहे।

भारत की बात की जाए तो उसने ग्लासगो में 15 स्वर्ण जीते थे लेकिन इस बार वह उस संख्या को पार करने में सफल रहा। हालांकि 2010 में अपनी मेजबानी में हुए 19वें राष्ट्रमंडल खेलों में भारत ने 38 स्वर्ण सहित कुल 101 पदक जीते थे, जो इन खेलों में उसका अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन है।

21वें राष्ट्रमंडल खेलों का आयोजन आस्ट्रेलिया के पश्चिमी शहर गोल्ड कोस्ट में 4 से 15 अप्रैल के बीच हुआ।

loading...
शेयर करें