जिंदा जलने से 10वीं क्लास के छात्र की मौत, मचा हडकंप

0

अल्मोड़ा। अल्मोड़ा के लमगड़ा ब्लॉक स्थित राजकीय इंटर कॉलेज सत्यों से एक ऐसा सनसनीखेज मामला सामने आया है, जिसके बारे में जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे। बताते चलें, यहां एक 10वीं क्लास के छात्र को जिंदा जला दिया गया। मंगलवार को हुए इस दर्दनाक हादसे के कई घंटों बाद तक छात्र वैसे ही झुलसा हुआ क्लास रूम में पड़ा रहा।

Image result for boy burnt with fire

यह भी पढ़ें : तेज रफ्तार कार गिरी खाई में, दो घायल एक की मौत

यही नहीं, यह इलाका राजस्व क्षेत्र में होने के बावजूद पुलिस को इसके बारे में बाद में सूचना मिली। फ़िलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं, इस मामले पर पुलिस का मानना है कि छात्र को किसी तरह की परेशानी में था, इसलिए उसने आत्महत्या कर ली। मगर जब तक कुछ सबूत पुलिस के हाथ नहीं लग जाते तब तक किसी भी तरह के निष्कर्ष पर आना ठीक नहीं होगा।

बताया जा रहा है कि स्कूल में सभी स्टूडेंट्स प्रार्थना सभा के लिए मैदान में एकत्र हुए। इस दौरान 10वीं क्लास से चीखने-चिल्लाने की आवाज के साथ ही आग की लपटें दिखाई दीं। ऐसे में जब टीचर्स, कर्मचारी और स्टूडेंट्स क्लास की ओर भागे तो देखा कि राकेश नाम का लड़का आग की चपेट में आ गया है।

ऐसे में टीचर्स ने राकेश पर दरी डालकर आग बुझाई लेकिन तब तक राकेश गंभीर रूप से झुलस चुका था। इसलिए देर न करते हुए उसे बेस चिकित्सालय लाया गया। यहां इलाज के बाद पुलिस ने राकेश का बयान लिया। बयान के दौरान राकेश ने पुलिस को बताया कि वह ब्लैकबोर्ड साफ़ करने के लिए केरोसिन लाया था। इतने में कोई नकाबपोश उसके पास आया उसने उसपर तेल डालकर आग लगा दी और वहां से भाग गया।

बाद में जब राकेश की हालत और ख़राब हुई तब उसे हल्द्वानी के डॉ. सुशीला तिवारी अस्पताल रेफर कर दिया गया लेकिन डॉक्टर्स उसे बचा नहीं पाए और उसकी मौत हो गई। राकेश की मौत से स्कूल में भी सब सकते में हैं। राकेश की मृत्यु की वजह से कुछ लोग इसे आत्महत्या से भी जोड़ रहे हैं लेकिन वहीं कुछ लोगों को कहना है कि राकेश की हत्या हुई है।

loading...
शेयर करें

आपकी राय