‘डीयू’ नहीं कर पाई अप्रैल बीत जाने के बाद भी ऐडमिशन डेट्स फाइनल

0

नई दिल्ली। दिल्ली यूनिवर्सिटी के ऐडमिशन को लेकर किए जाने वाले बड़े-बड़े दावे खाली साबित हो रहे हैं। ऐडमिशन कमिटी बनाकर डीयू ने जनवरी महीने में कहा था कि इस बार अप्रैल में ही बच्चो के ऐडमिशन प्रोसेस शुरू हो जायेंगे। लेकिन अप्रैल बीत के मई महिना शुरू हो गया हैं पर एडमिशन का प्रोसेस अभी तक शुरू नहीं हुआ हैं।

दिल्ली यूनिवर्सिटी

दिल्ली यूनिवर्सिटी अभी तक यूनिवर्सिटी रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख भी तय नहीं कर पायी हैं। सूत्रों कि माने तो डीयू में अभी तक फाइलें घूम रही हैं और फाइनल शेड्यूल अभी भी तय नहीं हुआ है।

दिल्ली यूनिवर्सिटी कई एक मीटिंग्स के बाद भी ऐडमिशन के नियमों में कोई बड़ा बदलाव नहीं कर पायी हैं। पिछले साल जो भी रूल्स थे इस साल भी वही रूल्स फॉलो किये जा रहा है। ‘कट ऑफ फॉर्म्युले’को लेकर भी कोई बड़े बदलाव होने की उम्मीद नहीं है। विश्वविद्यालय के जानकारों ने बताया कि जब ऐडमिशन नियमों में कोई बड़े बदलाव नहीं किए गये हैं तो फिर ऐडमिशन की डेट्स डीयू ने अभी तक फाइनल क्यों नहीं की हैं? डीयू में देश विदेश हर जगह के स्टूडेंट्स आकर एडमिशन लेते हैं।जहां तक बोर्ड रिजल्ट की बात है तो 12वीं का रिजल्ट 25 मई के आसपास आता है। पिछले साल डीयू में 22 मई से रजिस्ट्रेशन प्रोसेस शुरू हुआ था।

यूनिवर्सिटी ने इस बार जनवरी में ऐडमिशन कमिटी बनाई थी और दावे किए जा रहे थे कि कम से कम एक महीने पहले ऐडमिशन प्रोसेस शुरू होगा। यूनिवर्सिटी ने पिछले हफ्ते स्टूडेंट्स के लिए प्री-ऐडमिशन सेशन कंडक्ट किया था और उस सेशन में भी स्टूडेंट्स को संभावित शेड्यूल की जानकारी नहीं मिल पाई। जहां तक ऐडमिशन नियमों की बात है तो बदलाव नहीं होंगे। जैसे बीकॉम ऑनर्स, इकनॉमिक्स ऑनर्स जैसे पॉप्युलर कोर्सेज में 12वीं में मैथ्स पढ़े होने की शर्त होगी, लेकिन मैथ्स के मार्क्स बेस्ट ऑफ फोर में शामिल करना कम्पल्सरी नहीं होगा।

बीकॉम कोर्स में बिना मैथ्स के भी ऐडमिशन लिया जा सकेगा। मेरिट बेस्ट (कट ऑफ) और एंट्रेंस टेस्ट के बेस पर होने वाले ऐडमिशन के लिए एक ही पोर्टल से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया जा सकेगा। जिन कोर्सेज में कटऑफ के आधार पर ऐडमिशन होगा और जिन कोर्सेज में टेस्ट होगा, उनके लिए एक ही पोर्ट्ल से रजिस्ट्रेशन हो सकेगा। जर्नलिज्म का 5 ईयर इंटीग्रेटिड कोर्स के लिए भी पोर्ट्ल से अप्लाई किया जा सकेगा। डीयू में अंडरग्रैजुएट लेवल पर 61 कोर्सेज के लिए करीब 55000 सीटें हैं।

loading...
शेयर करें