फिल्म रिव्यू : देशभक्ति से भरपूर और जबरदस्त एक्टिंग का सुपर कॉम्बिनेशन है ‘अय्यारी’

0

फिल्म का नाम : अय्यारी

डायरेक्टर : नीरज पांडे

स्टार कास्ट : मनोज बाजपेयी, सिद्धार्थ मल्होत्रा, अनुपम खेर, नसीरुद्दीन शाह, रकुलप्रीत, कुमुद मिश्रा, राजेश तैलंग

रेटिंग : 2.5 स्टार

अय्यारी

कहानी

‘अय्यारी’ की कहानी शुरू होती है कर्नल अभय सिंह (मनोज बाजपेई) और मेजर जय बख्शी (सिद्धार्थ मल्होत्रा) की नोकझोंक से। यह दोनों इंडियन आर्मी के लिए काम करते हैं लेकिन काम के दौरान जय को एक दिन अपने ही विभाग के बारे में ऐसी चौंकाने वाली जानकारी हाथ लगती है जिसके बाद वह अचानक गायब हो जाता है। जय के पास इतनी जरूरी जानकारी है यह बात ध्यान में रखते हुए उसे खोज निकालने का काम सौंपा जाता है कर्नल अभय सिंह (मनोज बाजपेई) को। अभय वही शख्स है जिसके अंडर में रहकर जय ने अपने डिपार्टमेंट का काम और उससे जुड़ी बारीकियां सीखी हैं। अभय को जय को खोज निकालने के लिए 36 घंटे का समय दिया जाता है।

कहानी में जय की लव इंटरेस्ट के रूप में सोनिया (रकुल प्रीत) दिखाई देती हैं। कहानी दिल्ली से कश्मीर, लंदन होती हुई वापस दिल्ली आ जाती है। कुछ अहम मुद्दों पर बड़े ही सुलझे तरीके से ध्यान खींचने की कोशिश की गई है। कहानी में कई और कलाकारों की एंट्री होती है। फिल्म में इनका क्या रोल हैं? जय बख्शी को हाथ ऐसी कौन सी जानकारी लगी है और क्या अभय सिंह उन्हें ढूंढने में कामयाब होते हैं? ये सब जानने के लिए आपको सिनेमाघर तक जाना पड़ेगा।

डायरेक्शन

स्पेशल 26, बेबी जैसी फिल्मों के लिए जाने जाते नीरज कुमार ने इस फिल्म में भी अच्छा काम किया है। डायरेक्शन, लोकेशन, सिनेमेटोग्राफी कमाल की है। एक्शन सीक्वेंस के साथ आने वाले ट्विस्ट और टर्न्स भी सरप्राईज करते हैं। फिल्म में जो मुद्दे उठाए गए हैं उनपर अच्छे से काम किया गया है और लोगों का ध्यान केंद्रित करने की कोशिश की गई है। हालांकि फिल्म थोड़ी लंबी जरूर है जिसे एडिटिंग के जरिए छोटा किया जा सकता था। फिल्म में कुछ मामूली सी कमियां हैं जिसे नज़रअंदाज किया जा सकता है।

एक्टिंग

हर बार की तरह मनोज बाजपेई ने जबरदस्त काम किया है। सिद्धार्थ मल्होत्रा की एक्टिंग में भी काफी सुधार देखने को मिला। इसके अलावा फिल्म के बाकी स्टार्स अनुपम खेर, नसीरुद्दीन शाह, रकुलप्रीत, कुमुद मिश्रा, राजेश तैलंग का बहुत बड़ा रोल तो नहीं है लेकिन सभी ने अच्छा काम किया है।

म्यूजिक

फिल्म का म्यूजिक थोड़ा कमजोर है, रिलीज से पहले फिल्म का एक भी गाना हिट नहीं हुआ। लेकिन बैकग्राउंड स्कोर कमाल का है जो कहानी को बांधे रखने में सक्षम है।

देखें या नहीं

फिल्म में उठाये गए मुद्दे बेहद संगीन हैं जिनपर ध्यान देना बहुत जरूरी है। अपने परिवार के साथ आपको एक बार जरूर देखनी चाहिए अय्यारी।

loading...
शेयर करें