वित्त मंत्री जेटली का भरोसा: अगली तिमाही में जीडीपी में होगा और अधिक उछाल

0

नई दिल्‍ली। देश की आर्थिक विकास दर का ऐलान हो चुका है। पिछली बार की तुलना में इस बार जीडीपी दर 6.3 प्रतिशत है। पिछली बार 5.7 प्रतिशत थी। यह देश और पीएम मोदी के लिए खुशखबरी है। इसी सिलिसिले में वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने बयान दिया।

http://puridunia.com/finance-minister…n-jaitley-on-gdp/304125/जेटली ने जताया भरोसा

वित्‍त मंत्री अरुण जेटल ने भरोसा जताते हुए कहा कि यह सिलसिला आगे भी चलता रहेगा। अगली तिमाही में ज्‍यादा उछाल देखने को मिलेगा। उन्‍होंने कहा कि हमारी सरकार ने नोटबंदी और जीएसटी दो बड़े आर्थि‍क सुधार लागू किए हैं। यह उसी का नतीजा है।

यह भी पढ़ें: गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले मोदी और देश के लिए खुशखबरी, जानें क्या है मामला

आने वाली तिमाहियों में हौर होगा इजाफा

वित्‍त मंत्री ने कहा कि आने वाली तिमाहियों में भी अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे। सबसे अहम पहलु ये है कि इस क्वार्टर का पॉजिटव रिजल्ट- मैन्यूफ्कैचरिंग में ग्रोथ से अहम बना है। फिक्स कैपिटल फॉर्मेशन 4.7 हो गया है। इससे साबित होता है कि इन्वेस्टमेंट बढ़ रहा है।

वित्‍त मंत्री ने पेश किए आंकड़ें

गुरुवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक देश की GDP विकास दर दूसरी तिमाही यानी जुलाई-सितंबर में 6.3 फीसदी रही है। इससे पहले पहली तिमाही में यह विकास दर 5.7 फीसदी के साथ तीन साल के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई थी। जेटली ने कहा कि मई 2014 से आंकड़े देखें तो 13 क्वार्टर में हम 7 प्रतिशत आठ बार रहे। 6 प्रतिशत के नीचे एक बार गिरे, जो कि पिछले क्वार्टर में थे. अगर पिछले आंकड़ों से इसकी तुलना करेंगे तो यह भिन्न दिखेगा. यह मैन्यूफैक्चरिंग और इनवेस्टमेंट के मूव करने से ग्रोथ बढ़ा है।

धीमा रही थी पहली तिमाही

इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था की रफ्तार काफी धीमी हुई थी. अप्रैल से जून के बीच अर्थव्यवस्था 5.7 फीसदी की रफ्तार से बढ़ी थी। यह पिछली 13 त‍िमाहियों में सबसे धीमा था।

loading...
शेयर करें

आपकी राय