पूर्व सीएम का हमला, खनन की आड़ में बड़े खेल को अंजाम दे रहे मंत्री

0

हल्द्वानी। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने एक बार फिर भाजपा सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में राज्य सरकार के तीन मंत्री अपने गुर्गों के साथ खनन और जमीनी खेल की आड़ में किसी बड़े खेल को अंजाम दे रहे हैं। जिस सरकार ने जीरो टॉलरेंस की बात कही थी अब उसी सरकार को चुनौती है कि वो इस पूरे मामले की जांच कराए। उन्होंने यह भी कहा कि गौला और बाकी की नदियों पर समय से खनन का काम शुरू न कराना भी सरकार और मंत्रियों की एक सोची समझी चाल है। वहीं, नोटबंदी की बात की जाये तो यह देश का सबसे बड़ा घोटाला है।

यह भी पढ़ें, स्नोफॉल में अगर लेना हो बाइकिंग का मज़ा, तो आएं उत्तराखंड

हरीश रावत

बता दें, पूर्व मुख्यमंत्री ने हल्द्वानी में मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि बीजेपी सरकार प्रदेश के खजाने को खाली कराने के लिए आरोप लगा रही है। अगर ऐसा होता तो प्रदेश सरकार सभी कर्मचारियों को मार्च से जून तक का वेतन नहीं दे पाती।

इतना ही नहीं जब से भाजपा सरकार ई मोदी ने कालेधन को मिटाने के लिए बहुत बड़े-बड़े वाडे किये लेकिन, क्या नतीजा निकला यह सबके सामने है। देश में जो जीएसटी लागू किया गया है उसमें भी बहुत सी खामियां हैं। जिसके चलते सभी को दिक्कतें हो रही है। चाहें वो व्यापारी हों या फिर उपभोक्ता।

पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा है कि उन्होंने धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश में हवाई सेवाओं के विस्तार का जिम्मा उठाया था। जिनमें कार्य भी शुरू करा दिया गया था, लेकिन वर्तमान सरकार की मनमानी के चलते कई जगहों पर काम रोक दिया गया है।

पूर्व सीएम ने बताया कि प्रदेश सरकार को उन्होंने मार्च तक का समय दिया है। इतने समय के बीच भी अगर सेवाओं को शुरू नहीं कराया गया तो वह 24 घंटे उपवास रखकर सरकार का विरोध करेंगे।

loading...
शेयर करें

आपकी राय