पीतमपुरा में दर्दनाक हादसा, घर में आग लगने से एक परिवार के चार लोग जिंदा जले

0

नई दिल्ली। दिल्ली के कोहाट एंक्लेव के मकान नंबर 484 में बृहस्पतिवार रात लगी भीषण आग ने पूरे बिल्डिंग को चपेट में ले लिया। आग लगने की वजह शार्ट शर्किट बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि आग बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पर लगे इलेक्ट्रिक मीटर से लगनी शुरू हुई। आग इतनी भयानक थी कि इस बिल्डिंग के फर्स्ट फ्लोर पर रहने वाले नागपाल परिवार इस आग की चपेट में आ गया, और परिवार के मुखिया राकेश, उनकी पत्नी टीना, बेटा दिव्यांशु (7 साल) और बेटी श्रेया(3 साल) की मौत हो गई है।

जानकारी के मुताबिक बिल्डिंग के गार्ड ने जब देखा तो तुरंत ही पूरी बिल्डिंग की घंटिया बजा दी। जिससे सुनकर सब लोग नीचे आ गए। लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण नागपाल परिवार नीचे नहीं आ पाया और आग की चपेट में आकर पूरे परिवार की मौके पर ही मौत हो गई। मौजूदा लोगों मे तुरंत ही दमकल की गाड़ियों को बुलाया लेकिन वहां के स्थानीय लोगों का यह आरोप है कि दमकल की गाड़िया मौके पर नहीं पहुंची। मौके पर न पहुंचने की वजह घटना इतनी बढ़ गई। अगर दमकल की गाड़ियां मौके पर आ जाती तो शायद हादसा इतना भयानक रुप न ले पाता।

दिल्ली फायर सर्विस की टीम ने नागपाल परिवार के चार सदस्यों की लाशें सीढ़ियों के पास से बरामद की हैं। इन चारों की मौत दम घुटने से हुई है। खबरों की माने तो पुलिस अभी भी छानबीन कर रही है हालांकि घटना की असल वजह अभी भी सामने नहीं आ पाई है।

loading...
शेयर करें