धोखाधड़ी का शिकार हुए राहुल द्रविड़ और साइना नेहवाल, इंवेस्टमेंट कंपनी ने लगाया चूना

0

बेंगलुरु: अभी तक कई ऐसी चिटफंड और इंवेस्टमेंट की कंपनियां सामने आ चुकी हैं जिसने कई लोगों के करोड़ों रुपये हजम कर लिए और फरार हो गई। इस बार ऐसी ही एक कंपनी ने राहुल द्रविड़ और बैडमिंटन खिलाडी साइना नेहवाल जैसे दिग्गज खिलाड़ी को भी नहीं बख्शा है। दरअसल, विक्रम इन्वेस्टमेंट कंपनी नामक फर्म ने पोंजी स्कीम के तहत राहुल द्रविड़, साइना नेहवाल और प्रकाश पादुकोण जैसे कई दिग्गज खिलाड़ियों और अन्य लोगों के साथ करोड़ों रुपये की वित्तीय धोखाधड़ी की है।

कंपनी ने यह पोंजी स्कीम के तहत लोगों के करोड़ों रुपये पर हाथ साफ़ किया जिसमें खेल के अलावा कला, फिल्म, राजनीति और अर्थ जगत से जुड़ी हस्तियां भी शामिल हैं। पुलिस ने कंपनी के मालिक राघवेंद्र श्रीनाथ के साथ एजेंट के तौर पर काम करने वाले नरसिम्हामूर्ति, केसी नागराज और प्रह्लाद को गिरफ्तार कर लिया है।

इस बारे में जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ में निवेशकों के नामों का खुलासा किया है। जांच अधिकारी बैंक खातों की छानबीन में जुटे हैं। एक अधिकारी ने बताया कि गिरोह ने निवेशकों को 300 करोड़ रुपये से ज्यादा का चूना लगाया है। फिलहाल दस्तावेज की जांच-पड़ताल की जा रही है। इस बीच, स्थानीय अदालत ने पोंजी स्कीम चलाने वाले आरोपियों को 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

इस मामले की जांच में मशहूर खेल पत्रकार सूत्रम सुरेश भी संदिग्धता के घेरे में आए हैं। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि सुरेश खेल से जुड़ी हस्तियों को पोंजी स्कीम में निवेश करने के लिए प्रेरित करता था। उसके झांसे में आकर कई खिलाड़ियों द्वारा विक्रम इन्वेस्टमेंट कंपनी में निवेश करने की आशंका है। कंपनी ने निवेशकों को 40 फीसद तक का रिटर्न देने का वादा किया था। कई निवेशक ज्यादा रिटर्न की लालच में कंपनी में निवेश किया था।

loading...
शेयर करें