गुजरात की राजनीति में आया तूफान – नितिन पटेल के बाद अब एक और मंत्री ने दिखाए बगावती तेवर

0

गांधीनगर। हाल ही में गुजरात चुनाव में बीजेपी ने भले ही जीतकर अपनी सत्ता बचा ली हो, लेकिन इस बार कांग्रेस ने मोदी के गढ़ में बीजेपी को कड़ी चुनौती दी। पहली बार बीजेपी 3 का आकड़ा नहीं छू पाई और 99 सीटों पर ही रुक गई। वहीं, कांग्रेस ने 77 सीटें जीतीं। लेकिन सरकार बनाने के बाद भी बीजेपी की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। पहले डिप्टी सीएम नितिन पटेल की नाराजगी से खबरें आ रही थीं। वहीं, गुजरात में बीजेपी के एक और मंत्री ने बगावती तेवर दिखाए हैं।

यह भी पढ़ें : ट्रंप ने कर दिखाया – बंद कर दिया पाकिस्तान का हुक्का पानी, अब भूखा मरेगा दुश्मन देश

मंत्री पुरुषोत्तम सोलंकी

इससे पहले नितिन पटेल ने बागी सुर दिखाए थे

पहले जिस तरह से नितिन पटेल ने खुलकर मनचाहा विभाग नहीं मिलने के बाद बागी सुर दिखाते थे उसके बाद माना जा रहा था कि पार्टी के भीतर सबकुछ सही है। लेकिन एक बार फिर से विजय रूपाणी की अगुवाई में मत्स्य उद्योग मंत्री पुरुषोत्तम सोलंकी ने विरोधी सुर दिखाने शुरू कर दिए हैं। वह इस समय मत्स्य पालन राज्यमंत्री हैं।

यह भी पढ़ें : बीजेपी सांसद का शर्मनाक बयान, बोले – ‘सेना के जवान हैं, जान तो जाएगी ही’

पुरुषोत्तम सोलंकी ने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी से मांग की है

खबर के मुताबिक, पुरुषोत्तम सोलंकी ने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी से मांग की है कि उन्हें बेहतर (एक से ज्यादा) मंत्रालय दिए जाएं। पुरुषोत्तम पांचवीं बार चुनाव जीत कर आए हैं। श्रीकृष्ण कमीशन द्वारा साल 1993 में मुंबई सांप्रदायिक दंगे के आरोपी सोलंकी ने हाल ही में धमकी दी थी कि साल 2019 के चुनाव में कोली समाज देखेगा कि उसे किसे सपोर्ट करना है और किसे नहीं।

सोलंकी ने क्या कहा

सोलंकी ने कहा- ‘मुख्यमंत्री खुद 12-12 विभाग लिए हुए हैं। मेरा भी अच्छा मान-सम्मान हो ताकि लोगों के साथ न्याय किया जा सके। जहां जाऊं, वहां मुझे इज्जत मिले, ऐसा प्रभावशाली विभाग मिलना चाहिए। मैं लगातार पांच बार से विधायक चुना जा रहा हूं। बावजूद इसके कोई अच्छा विभाग मुझे नहीं सौंपा जाता। हर बार सिर्फ मत्स्य उद्योग विभाग सौंप दिया जाता है। इसको लेकर कोली समाज बहुत नाराज है।

loading...
शेयर करें