आज कोर्ट में पेश होंगी हनीप्रीत, पुलिस फिर से रिमांड बढ़वाने की लगाएगी अर्जी

0

नई दिल्ली। बलातकार के जुर्म में सजा काट करे डेरा प्रमुख राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत को आज हरियाणा पुलिस कोर्ट के सामने पेश करेगी। पुलिस ने कोर्ट से हनीप्रीत की तीन दिन की रिमांड बढ़वाई थी जो आज खत्म हो रही है, लेकिन शातिर हनी ने अभी तक सारे राज अपने अंदर दफन कर रखे हैं, ऐसे में पुलिस हनीप्रीत की रिमांड और बढ़वाने के लिए आज कोर्ट में फिर से अर्जी पेश करेगी।

विपासना इंसां को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करना चाहती है पुलिस

हनीप्रीत पिछले 9 दिनों से पुलिस रिमांड में हैं। पुलिस उनसे कुछ भी उगलवाने में असफल रही है। यहां तक की अभी तक पुलिस उनका फोन और लैपटॉप भी हासिल नहीं कर सकी है और न ही उन्होंने फरार चल रहे डॉ. आदित्य इंसां और पवन इंसां के बारे में बताया है। हनीप्रीत को दोबारा कोर्ट में पेश करने के बाद पुलिस उसकी पुलिस रिमांड और बढ़ाने की मांग करेगी। पुलिस हनीप्रीत और डेरा चेयरपर्सन विपासना इंसां को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करना चाहती है। अब यहां सवाल ये उठता है कि क्या कोर्ट हनीप्रीत की रिमांड बढ़ाएगी, क्योंकि अगर ऐसा नहीं हुआ तो उसे ज्युडिशियल कस्टडी में भेजा जा सकता है।

मोबाइल और लैपटॉप नहीं मिलने के बाद अब हनीप्रीत ने पुलिस को कहा है कि उसने मोबाइल और लैपटॉप रोहतक जेल से सिरसा डेरे में जाने के बाद  विपासना को दे दिया था। जिसके बाद पुलिस बार बार डेरे की चेयरपर्सन विपासना इंसां विपासना को बुला रही है। लेकिन विपासना हनीप्रीत के सामने सवालों का जवाब देने के लिए नहीं आना चाहती। यही वजह है कि उसकी ओर से अपना मेडिकल भेजा गया है। शुक्रवार को विपासना को तीसरी बार बुलाया गया है।

आदित्य और पवन इंसां को पकड़ना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती

फिलहाल पुलिस ने के सामने चुनौती फरार चल रहे डॉ. आदित्य इंसां और पवन इंसां पर शिकंजा कसने की है। आदित्य इंसां 25 अगस्त को पंचकूला में हुई हिंसा के दिन से ही फरार है। इसके साथ ही यदि वह 30 अक्टूबर तक पुलिस के हाथ नहीं आता तो उसे भगोड़ा घोषित करने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। पुलिस को इस बात का यकीन है कि दंगों पर अगर कोई सबसे ज्यादा खुलासे कर सकता है तो वह आदित्य इंसां ही है।

loading...
शेयर करें

आपकी राय