अगर इस एक्सरसाइज के खतरों से आप हैं अंजान, तो जा सकती आपकी जान

0

नई दिल्ली। आजकल के दौर में फिटनेस का क्रेज लोगों के दिलोदिमाग पर छाया हुआ है। हर व्यक्ति एक अच्छी बॉडी बनाना चाहता है। इसके लिए लोग जिम में घंटों एक्सरसाइज करते हैं। ऐसी ही एक एक्सरसाइज का नाम है क्रासफिट। इस एक्सरसाइज को करते समय विशेष सावधानी बरतने की जरुरत होती है। अगर आपने इस दौरान लापरवाही बरती, तो ब्रेन स्ट्रोक का खतरा रहता है। जिस वजह से कभी-कभी जान जाने का भी खतरा रहता है।

जानिए किस तरह खतरनाक है क्रासफिट एक्सरसाइज
एक्सपर्ट के बिना या सही तरीके को समझे बिना हाई इंटेंसिटी वर्कआउट जैसे क्रासफिट अपनाना सही नहीं। जिन्हें कॉर्सफिट का स्वभाव नहीं पता इस बात से अंजान हैं कि इसमें की जाने वाली गतिविधियां काफी प्रभावी और मुश्किल हैं। इसमें जमकर और तेज़ी से कार्डियो और स्ट्रेंथ ट्रेनिंग का मिश्रण किया जाता है। आपके शरीर के सभी हिस्से इसमें शामिल होते हैं।

इंसानी शरीर में दिमाग, गर्दन से नीचे की ओर फैले नर्व फाइबर के माध्यम से संपर्क बनाता है। मस्तिष्क में खून पहुंचने का रास्ता गर्दन से होता हुआ जाता है। यहां स्थित चार बड़े ट्यूब, जिन्हें कैरोटिड और वर्टेब्रल आर्टेरिज़ कहा जाता है, दो गर्दन पर आगे की तरफ और दो पीछे की तरफ दिमाग को रक्त पहुंचाते हैं।

ये ट्यूब चोट और डैमेज झेलने में सक्षम नहीं होते और किसी भी तरह गर्दन पर ताकत लगाकर की गई गतिविधि जैसे गर्दन को ज़ोर से आगे करना या पीछे ले जाने पर क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। इस तरह की चोट लगने पर पैरालिटिक अटैक या ब्रेन स्ट्रोक की स्थिति बन सकती है और आपको ब्रेन स्ट्रोक आ सकता है ।

loading...
शेयर करें