काजू का महत्व औऱ इसकी उन्नति के आवश्यक मिट्टी और जलवायु

0

नई दिल्ली। काजू एक बहुत ही महत्वपूर्ण ड्राई फ्रूटस के नाम से जाना जाता है। इसे ड्राई फ्रूट्स के राजा की संज्ञा दी जाती है। यह खाने में इतना स्वादिष्ट होता है कि इसका नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। काजू बहुत अधिक तेजी से बढ़ने वाला पेड़ होता है। इसमे पौधारोपन के तीन साल बाद फूल आने लगते हैं और उसके दो महीने के भीतर पककर तैयार हो जाता है।

काजू की उत्पत्ति ब्राजील से हुआ है। हालांकि आजकल इसकी खेती दुनिया के अधिकाश देशों में की जाती है। सामान्य तौर पर काजू का पेड़ 13 से 14 मीटर तक बढ़ता है। हालांकि काजू की बौना कल्टीवर प्रजाति जो 6 मीटर की ऊंचाई तक बढ़ता है, जल्दी तैयार होने और ज्यादा उपज देने की वजह से बहुत फायदेमंद व्यावसायिक उत्पादकों के लिए साबित हो सकती है ।

आगे की स्लाइड में जानिए काजू के पौधे की उन्नति के लिए आवश्यक जलवायु के बारे में…

पिछली स्लाइड को देखें 1 of 2
loading...
शेयर करें

आपकी राय