जदयू ने तेजस्वी को बताया बेनामी संपत्ति का युवराज, लालू कुनबे को दी संपत्ति दान करने की सलाह

0

पटना| आय से अधिक संपत्ति मामले में जांच का वार झेल रहे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद और उनके परिवार पर जनता दल युनाइटेड (जदयू) ने फिर हमला बोला है। इस बार जदयू ने लालू कुनबे की की कथित बेनामी संपत्ति को लेकर उन पर निशाना साधा। जदयू ने लालू परिवार को बेनामी संपत्ति दान करने की सलाह दी। जदयू ने राजद से यह भी पूछा कि वह बताए कि बिहार अन्य राज्यों की तुलना में पिछड़ा हुआ क्यूं है।

जदयू प्रवक्ता और विधान पार्षद नीरज कुमार ने पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को ‘बेनामी संपत्ति का युवराज’ बताया। उन्होंने सलाह देते हुए कहा कि तेजस्वी को अपने परिवार की बेनामी संपत्ति दान करने की घोषणा करनी चाहिए।’ उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि रहीम जी कह चुके हैं, “तरुवर फल नहिं खात है, सरवर पियहि न पान। कहि रहीम पर काज हित, संपत्ति संचहि सुजान।

नीरज ने विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के मसले पर कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाना आज भी जदयू की प्राथमिकता में शामिल है। उन्होंने लालू प्रसाद से सवाल किया कि कि अन्य राज्यों की तुलना में बिहार के पिछड़े रहने के क्या कारण रहे हैं। आखिर बिहार अन्य राज्यों से विकास के मामले में पिछड़ा क्यों रह गया है?

उन्होंने पूछा कि राजद ने 15 साल तक बिहार की सत्ता में रहते बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की पहल क्यों नहीं की? तेजस्वी जब राज्य के उपमुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की क्या पहल की?

नीरज ने कहा कि राजद के शासनकाल को जंगलराज कहा जाता है जो राजद के लिए काला धब्बा है। राजद सब कुछ कर ले मगर उसके शासनकाल पर लगे ‘जंगलराज’ के काले धब्बे को कैसे हटाएगा?

तेजस्वी ने गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर सत्ता के लिए बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की पहल को भूल जाने का आरोप लगाया था।

loading...
शेयर करें