कर्नाटक विधानसभा चुनाव : राज्यपाल से मिलने पहुंचा कांग्रेसी दल, फिर हुआ ये

0

नयी दिल्ली। कर्नाटक विधानसभा चुनाव के रुझान के मुताबिक, बीजेपी सबसे पड़ी पार्टी बनकर उभरी है। इसी बीच पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा की पार्टी जेडीएस किंगमेकर की भूमिका निभाने वाली है। इसे देखते हुए बीजेपी और कांग्रेस दोनों की नजरें अब एच डी देवेगौड़ा पर टिकी है। वहीँ कांग्रेस जेडीएस अपने समर्थन का ऐलान भी कर दिया है। इसी बीच सोनिया गाँधी ने देवेगौड़ा से बात कर ली है।

कर्नाटक विधानसभा

सूत्रों के मुताबिक देवेगौड़ा कांग्रेस के प्रस्ताव को मान लिया है। हालांकि अभी इस बात की आधिकारिक घोषणा नहीं हुयी है। इस ऐलान के बाद खबर आ रही है कि सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए कांग्रेस ने एक दल राज्यपाल के पास भेजा था लेकिन राज्यपाल ने उनके इस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है। आपको बता दें कि कांग्रेस और जेडीएस ने अपने 116 विधायकों के अलावा 2 निर्दलीय विधायकों के समर्थन का भी दावा किया है। कांग्रेस, जेडीएस ने अपने सभी विधायकों को बंगलुरू बुलाया है।

कांग्रेस के बाद अब भाजपा सरकार बनाने की कवायत में जुट गयी है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने प्रकाश जावड़ेकर, धर्मेंद्र प्रधान और जेपी नड्डा को बंगलुरू भेजा है। वहीं दूसरी ओर आज शाम होने वाली भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक भी रद्द कर दी गयी है।

आपको बता दें कि 12 मई को राज्य की 224 विधानसभा सीटों में से 222 सीटों पर 72.13 फीसदी वोटिंग हुई थी।बेंगलुरू की राज राजेश्वरी नगर सीट के लिए मतदान स्थगित कर दिया गया, जो अब 28 मई को होगा, जबकि जयनगर सीट पर बीजेपी उम्मीदवार के निधन के चलते मतदान टाल दिया गया था। अब तक जो रुझान मिले हैं उसमे किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिल रही है।

loading...
शेयर करें