जम्मू-कश्मीर : पुलवामा में छिपे आतंकियों का शिकार करने निकली भारतीय सेना

0

श्रीनगर। सुरक्षाबलों ने शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा से उत्तरी कश्मीर के हाजिन तक चार जगहों पर आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर घेराबंदी कर तलाशी अभियान (कासो) चलाया। पुलिस ने बताया कि राष्ट्रीय राइफल्स, राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने दो जिलों के दो दर्जन से भी अधिक गांवों में घर-घर जाकर तलाशी ली।

बड़े पैमाने पर घेराबंदी और तलाशी अभियान चलाए थे

इस साल की शुरुआत में सुरक्षा बलों ने दक्षिण कश्मीर के कई जिलों में बड़े पैमाने पर घेराबंदी और तलाशी अभियान चलाए थे। ऐसे व्यापक तलाशी अभियानों का मकसद आतंकवादियों से मुकाबला करने से भी अधिक भीड़ भाड़ वाले इलाकों से आतंकियों को खदेड़ना है ताकि वे घनी आबादी वाले इलाकों में अपनी पैठ न जमा पाएं।

पथराव की तीव्रता बढ़ने लगी तो उन्होंने भी बलप्रयोग किया

पुलवामा से मिली सूचनाओं में बताया गया है कि लस्सीपोरा के तांत्रेपोरा में आतंकियों को देखे जाने की सूचना पर सुरक्षाबलों ने घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया, लेकिन आतंकी समर्थक भीड़ नारेबाजी करती हुई सड़कों पर उतर आई। प्रदर्शनकारियों ने तलाशी अभियान का विरोध करते हुए सुरक्षाबलों पर पथराव शुरू कर दिया। पहले तो सुरक्षाबलों ने संयम बरता, लेकिन जब पथराव की तीव्रता बढ़ने लगी तो उन्होंने भी बलप्रयोग किया।

loading...
शेयर करें

आपकी राय