प्रोडक्ट बनाने से लेकर बेचने तक का सीखा हुनर

0

आगरा। खुदरा बाजार से लेकर ऑनलाइन मार्केटिंग तक और क्षेत्रीय उत्पाद से लेकर मल्टीनेशनल कम्पनी तक। कम लागत में बेहतर मुनाफे के साथ प्रोडक्ट बनाने से लेकर उसका विज्ञापन करने और बेचने तक के सभी तकनीति गुर सीखे विद्यार्थियों ने। मौका था सेंट पीटर्स कॉलेज में आयोजित एक दिवसीय बी वर्ल्ड कॉमर्स फेस्ट का।

विभिन्न राज्यों के 15 स्कूलों के लगभग 600 बच्चों ने लिया भाग

कार्यक्रम में आगरा सहित झांसी, अलीगढ़ टूंडला आदि के 15 स्कूलों के 600 बच्चों ने भाग लिया। जिसमें टर्नकोट, पब्लीसाइजर, शटर बज, ब्रांड प्रमोशन, क्वीज, स्टार्ट अप्स, रॉक बैंड प्रतियोगिताएं हुईं। पब्लीसाइजर प्रतियोगिता में बच्चों ने प्रतिस्पर्धा के दौर में व्यापार जगत का बेस्ट कॉम्पटीटर बनना सीखा तो ब्रांड प्रमोशन में मार्केटिंग करना। क्वीज में बच्चों के व्यापार जगत से जुड़ी जानकारियों का आंकलन किया गया।

समापन समारोह के मुख्य अतिथि व सीए डॉ. जीएस गिरेवाल (बेस्ट राइटर ऑफ एकाउंटेंसी बुक ऑफ सीबीएसई एंड आईएससी) ने बच्चों को आयोजन के लिए शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इस तरह के टीम एफर्ट जीवन में हमेशा काम आते हैं। अकेले कोई आगे नहीं बढ़ सकता। कॉमर्स में किताबी जानकारी से अलग हटकर यह प्रैक्टीकल जानकारी आपको एक अच्छा विजनेस मैन या मैनेजर बनाएगी। अतिथियों का स्वागत प्रधानाचार्य फादर पॉल थेनिकल, उपप्रधानाचार्य फादर प्रवीन डिकोस्टा कॉमर्स विभागाध्यक्ष प्रधानाचार्य फादर पॉल थेनिकल, उपप्रधानाचार्य फादर प्रवीन डिकोस्टा, कॉमर्स विभागाध्यक्ष डॉ. मनीष मगन ने किया।

संचालन कॉमर्स क्लब के प्रसीडेंट दिविक चांदना ने किया। इस अवसर पर मुख्य रूप से प्रखर गर्ग (आरजीपीजी ग्रुप), पूरन डाबर (डावर फुट वेयर इंडस्ट्री), राजेश श्रोफ (श्राफ पॉलीटेच), गोविन्द अग्रवाल (भोले बाबा मिल्क फूड इंडस्ट्री), तनय जैन (ओसवाल पब्लिकेशन), डॉ. पवन पारीक।

कॉमर्स क्लब ने सम्भाली व्यवस्था

कॉमर्स क्लब के उपाध्यक्ष नमन तलवार, सीईओ संस्कार दुआ, चीफ मार्केटिंग ऑफिसर रितिक मित्तल, एमडी माधवेन्द्र कृष्णा, चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर सुहैब वसीम, कैप्टन मोहम्मद आसन अली ने कार्यक्रम की व्यवस्थाएं सम्भाली

दो वर्ष बाद नजर आएंगे जीएसटी के फायदे

बी वर्ल्ड कॉमर्स फेस्ट के मुख्य अतिथि व सीए डॉ. जीएस गिरेवाल (बेस्ट राइटर ऑफ एकाउंटेंसी बुक ऑफ सीबीएसई एंड आईएससी) ने बताया कि जीएसटी के फायदे नजर आने में अभी थोड़ा समय (दो वर्ष का) लगेगा। नोटबंदी और जीएसटी दोनों की देश के हित और विकास में सहयोगी साबित होंगे। जो समस्याएं अभी नजर आ रही हैं, उसका कारण वर्ल्ड इकोनॉमी के कारण भारतीय कम्पनियों के प्रोडक्ट के निर्यात में आयी कमी है। जीएसटी में अभी कई सुधार होने बाकी है। स्टेट व सेंट्रल के 9-9 प्रतिशत के बजाय व अलग-अलग प्रोडक्ट पर अलग-अलग जीएसटी के बजाय इसका पूरे देश में एकीकरण अधिक फायदेमंद होगा।

विदिक चांदना, (अध्यक्ष कॉमर्स क्लब)

ब्रोचर डिजायन करने से लेकर कार्यक्रम की सभी व्यवस्थाएं कॉमर्स क्लब ने सम्भाली हैं। यह कॉलेज का चौथा आयोजन है, जिसका उद्देश्य कॉमर्स के किताबी ज्ञान के अलावा प्रैक्टीनल नॉलेज देना और सीखना है, जिससे भविष्य में देश को बेहतर व्यवसायी व कम्पनी मैनेजर मिल सकें।

नमन तलवार (वाइस प्रसीडेंट कॉमर्स क्लब)

बी वर्ल्ड का आयोजन हमें सिखाता है कि कठिन परिश्रम कभी व्यर्थ नहीं जाता। यह आयोजन यह टीम वर्क है, जिसमें आत्मविश्वास के साथ हमारा ज्ञान भी बढ़ता है। यह आयोजन हमें प्रतिस्पर्धा के दौर में ईमानदारी और बेहतर क्वालिटी के साथ आगे बढ़ना सिखाता है।

 

loading...
शेयर करें

आपकी राय