आज फिर लोकसभा में हुआ जमकर हंगामा, TDP के विरोध के बीच कार्यवाही स्थगित

0

नई दिल्ली। लोकसभा में बुधवार को भी जमकर हंगामा हुआ। 12,600 करोड़ रुपये के पीएनबी घोटाले और अन्य मुद्दों को लेकर विपक्ष ने जोरदार हंगामा किया, जिसके बाद दिनभर के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गई। आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा दिए जाने की तेलुगू देशम पार्टी (TDP) की मांग को लेकर हुए हंगामे के बीच स्थगित कर दी गई।

सदन की कार्यवाही स्थगित

सांसद हाथों में प्लाकार्ड लिए करने लगे विरोध

जैसे ही सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे दोबारा शुरू हुई, विपक्ष के सदस्यों ने अपनी मांगों को लेकर हंगामा करना शुरू कर दिया। कई सांसद हाथों में प्लाकार्ड लिए लोकसभा अध्यक्ष के आसन के पास इकट्ठा हो गए। कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस ने पीएनबी घोटाले के मामले में नरेंद्र मोदी से जवाब देने की मांग की तो वहीं भाजपा की साझेदार पार्टी तेदेपा आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने की मांग को लेकर प्रदर्शन करती रही।

राज्य में कोटे की सीमा 50 फीसदी से अधिक बढ़ाए जाने की मांग की

एआईएडीएमके के सदस्य कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग को लेकर आसन के पास इकट्ठा हो गए जबकि तेलंगाना राष्ट्र समिति के सदस्यों ने राज्य में कोटे की सीमा 50 फीसदी से अधिक बढ़ाए जाने की मांग की। शिवसेना सांसद मराठी को शास्त्रीय भाषा देने की मांग को लेकर नारेबाजी करते रहे लेकिन सुमित्रा महाजन द्वारा पार्टी सांसद आनंदराव अदसुल को इस मुद्दे पर बोलने की अनुमति देने के बाद वे अपनी-अपनी सीटों पर लौट गए।

शिवसेना ने भी किया सवाल

वहीं, एनडीए की सहयोगी शिवसेना सदस्य ने कहा कि तेलुगू और ओडिया सहित कई भाषाओं को शास्त्रीय भाषाओं का दर्जा मिला है। उन्होंने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से इस पर जवाब देने का आग्रह किया। इससे पहले तेदेपा के सांसदों ने संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास विरोध प्रदर्शन किया।

loading...
शेयर करें